+

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व बल्लेबाज हसी ने कहा- अगर टी20 विश्व कप हुआ तो लॉजिस्टिक के लिहाज से दुस्वप्न साबित हो सकता है

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) पहले ही कह चुका है कि मौजूदा परिस्थितियों को देखते हुए टी20 विश्व कप कप आयोजन समय पर करना थोड़ा ‘अव्यावहारिक’ है लेकिन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) को इस पर अभी फैसला करना है।
ऑस्ट्रेलिया के पूर्व बल्लेबाज हसी ने कहा- अगर टी20 विश्व कप हुआ तो लॉजिस्टिक के लिहाज से दुस्वप्न साबित हो सकता है
ऑस्ट्रेलिया के पूर्व बल्लेबाज माइकल हसी ऑस्ट्रेलिया के अक्टूबर-नवंबर में टी20 विश्व कप की मेजबानी की संभावना को लेकर चिंतित हैं और उनका कहना है कि कोविड-19 महामारी के बीच 16 टीमों का टूर्नामेंट ‘लॉजिस्टिक’ के हिसाब से दुस्वप्न साबित हो सकता है।

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) पहले ही कह चुका है कि मौजूदा परिस्थितियों को देखते हुए टी20 विश्व कप कप आयोजन समय पर करना थोड़ा ‘अव्यावहारिक’ है लेकिन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) को इस पर अभी फैसला करना है। हसी को भी इस साल टूर्नामेंट के आयोजन की संभावना नहीं दिखती। हसी ने कहा, ‘‘ईमानदारी से कहूं तो मैं टी20 विश्व कप के बारे में थोड़ा डरा हुआ हूं और इसके पीछे कारण है कि मुझे लगता है कि एक टीम को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलने के लिये लाना ठीक है और उन्हें पृथकवास में रखना, सुरक्षित रखकर श्रृंखला की अच्छी तैयारी कराना ठीक है। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन कई टीमों को लाना और उन्हें पृथकवास में रखकर तैयारी कराना और फिर देश में विभिन्न स्थलों तक ले जाना, मुझे लगता है कि यह सब ‘लॉजिस्टिक’ के लिहाज से दुस्वप्न ही होगा। हम जो सुन रहे हैं, उससे शायद टी20 विश्व कप को 2021 या फिर 2022 तक के लिये स्थगित किया जाना चाहिए। ’’ भारत को टी20 विश्व कप के बाद ऑस्ट्रेलिया का दौरा करना है और हसी के अनुसार इसके योजना के अनुसार होने की संभावना है।

हसी ने कहा, ‘‘मैं भारतीय टीम के ऑस्ट्रेलिया के दौरे में काफी सकारात्मक हूं कि यह होगा क्योंकि यहां केवल एक ही टीम आयेगी और उन्हें एक जगह रखना आसान होगा।’’ हसी ने कहा, ‘‘उदाहरण के तौर पर एडीलेड ओवल ने हाल में एक होटल बनाया है जो स्टेडियम से जुड़ा हुआ है इसलिये भारतीय टीम वहां अपना बेस बना सकती है, ट्रेनिंग कर सकती है और श्रृंखला की तैयारी कर सकती है और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेल सकती है। ’’


facebook twitter