पूर्वी डिप्टी स्पीकर गहलोत का इनेलो से इस्तीफा

गुरुग्राम : आज गुरुग्राम की स्थानीय अग्रवाल धर्मशाला में इलाके के मोजीजान व मजबूत एंव कर्मठ कार्यकर्ताओं की सभा पूर्व जिला शिक्षा अधिकारी पं0 विष्णुदत्त शर्मा की अध्यक्षता में आयोजित हुई जिसमें आये हुए सभी महानुभावों ने वर्तमान राजनीतिक हालातों पर ध्यानाकर्षण करते हुए अपने अपने अमूल्य विचार रखे। इस अवसर पर पूर्व डिप्टी स्पीकर गोपीचन्द गहलोत ने कहा कि पिछल कई दिनों से राजनीतिक गलियारों में अनेक प्रकार की चर्चाएं चरम पर थी तथा लोग उन चर्चाओं को लेकर असमंजस की स्थिती में थे तथा अनेक प्रकार के कयास लगाये जा रहे थे। 

इन सभी चर्चाओं पर विराम लगाने के लिए इस सभा का आयोजन किया गया ताकि गुड़गांव की राजनीति को नई दिशा व दशा प्रदान की जाये। श्री गहलोत ने आये हुए सभी विशिष्ठ जनों का स्वागत करते हुए सभा स्थल पर पंहुचने पर व अपने विचार व्यक्त करने पर धन्यवाद किया तथा कहा कि मुझे राजनीतिक व सामाजिक जीवन में गुरुग्राम वासियों की सेवा करते हुए लगभग चार दशक हो गये हैं। इन चार दशकों में मैं हर मुशीबत में गुड़गांव की जनता के साथ कन्धे से कन्धा मिलाकर खड़ा रहा हूं। 

मेरा चुनावी सफर सन् 1991 में गुरुग्राम जन पंचायत उम्मीदवार के रूप में शुरू हुआ। सन् 2000 में आजाद उम्मीदवार के तौर पर चुनाव जीत विधायक व विधानसभा का डिप्टी स्पीकर बन 2000 से 2005 के बीच गुड़गांव का अभूतपूर्व विकास कराया जिनमें कुछ मुख्य हैं ताऊ देवीलाल स्टेडियम, लघु सचिवालय, सामान्य अस्पताल सैक्टर 10, इएसआई हॉस्पीटल, अनेको सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, 6 बिजली सब स्टेशन, प्रत्येक सैक्टर में सामुदायिक केन्द्र भवन, हर कॉलोनी में बड़े बड़े अनेको पार्क, मेट्रो रेल, लॉ कॉलेज, मेडिसिटी, गांवों में वृद्वाश्रम, स्कूल अपग्रेडेशन, अपराध पर नकेल कसने के लिए व कानून व्यवस्था कायम करने के लिए नये पुलिस स्टेशनों का निर्माण, शहर की सारी टूटी फूटी गलियां व सड़कों को पक्का कर गुरुग्राम शहर की दिशा व दशा बदलने का काम किया व बिजली, पानी, सड़क, शिक्षा जैसी मूलभूत सुविधाओं की उचित व्यवस्था कर गुड़गांव का चंहुमुखी विकास कराया। 

उन्होंने कहा कि आने वाले समय में हम सभी साथी मिलकर भविष्य की राजनीतिक दिशा तय करने का काम करेंगे। आज की सभा में श्री गहलोत के साथ इनेलो के सैंकड़ों कार्यकर्ताओं ने अपनी प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दिया। इस अवसर पर रमेश दहिया, राव मानसिंह चेयरमैन, प्रो. श्यामसिंह, रामपत सैनी, देवेन्द्र धनखड़, सतपाल हंस, नवल राणा, रिषीपाल धनखड़, रणसिंह ठाकराण, दीवानसिंह एडवोकेट, एसएस चैहान एडवोकेट, राहुल भारद्वाज एडवोकेट, रविन्द्र कटारिया पूर्व चेयरमैन, धर्मबीर बाघोरिया पूर्व पार्षद, रामसिंह जांगड़ा पूर्व पार्षद, राकेश गोयल, शकील अहमद, सुरेन्द्र चैधरी,  अशोक जांगड़ा, विजय डागर, आशाराम कामरा ​ आदि कार्यकर्ता उपस्थित थे। 
Download our app