+

उत्तराखंड के पूर्व CM रावत का बयान, 'कोरोना एक जीव, उसे भी जीने का अधिकार'

त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा, हमें कोरोना वायरस से दूरी बनाकर चलना होगा। तू भी चलता रह और हम भी चलते रहे। बस, हमें उसे तेज चलना होगा। ताकि वो पीछे छूट जाए।
उत्तराखंड के पूर्व CM रावत का बयान, 'कोरोना एक जीव, उसे भी जीने का अधिकार'
उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत कोरोना पर अपने एक बयान को लेकर चर्चा में आ गए। उन्होंने कोरोना वायरस को जीवित जीव बताते हुए कहा कि उसे भी जीने का अधिकार है। उनके इस अजीबो गरीब बयान को लेकर सोशल मीडिया पर तरह-तरह की प्रतिक्रिया सामने आ रही हैं। 
पूर्व मुख्यमंत्री ने अपने बयान में कहा, 'दार्शनिक दृष्टिकोण से देखा जाए तो कोरोना वायरस भी एक जीवित जीव है, बाकी लोगों की तरह इसे भी जीने का अधिकार है, लेकिन हम (मनुष्य) खुद को सबसे बुद्धिमान समझते हैं और इसे खत्म करने के लिए तैयार हैं, इसलिए यह खुद को लगातार बदल रहा है।  
हालांकि त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा, हमें वायरस से दूरी बनाकर चलना होगा। तू भी चलता रह और हम भी चलते रहे। बस, हमें उसे तेज चलना होगा। ताकि वो पीछे छूट जाए। हमे इस पहलू की ओर सोचने की जरूरत है। वो भी एक जीवन है। अपने जीवन को बचाने के लिए वो तमाम रूप बदल रहा।
पूर्व सीएम रावत के इस बयान को लेकर उन्हें  सोशल मीडिया पर खूब ट्रोल जा रहा है। कांग्रेस नेता गौरव पंधी ने कहा कि ऐसे लोगों के बयानों से यह आश्चर्य की बात नहीं होनी चाहिए कि हमारा देश आज दुनिया में सबसे ज्यादा मानवीय त्रासदी झेल रहा हैं। वही अन्य यूजर्स ने भी रावत के बयान पर प्रतिक्रियां व्यक्त की। वहीं उनके समर्थकों का कहना है कि पूर्व मुख्यमंत्री ने लोगों को कोरोना वायरस से बचने के लिए आगाह किया है।
facebook twitter instagram