+

संकट की घड़ी में भारत का साथ देने फ्रांस आया सामने, ऑक्सीजन समेत अन्य चिकित्सा सामान भेजेगा

फ्रांस ने मंगलवार को भारत के लिए ‘‘एकजुटता अभियान’’ की घोषणा की कि जिसके तहत वह कोरोना वायरस वैश्विक महामारी से लड़ने में भारत की मदद के लिए ऑक्सीजन उत्पादन संयंत्र, वेंटीलेटर्स और अन्य चिकित्सा सामान भेजेगा।
संकट की घड़ी में भारत का साथ देने फ्रांस आया सामने, ऑक्सीजन समेत अन्य चिकित्सा सामान भेजेगा
फ्रांस ने मंगलवार को भारत के लिए ‘‘एकजुटता अभियान’’ की घोषणा की कि जिसके तहत वह कोरोना वायरस वैश्विक महामारी से लड़ने में भारत की मदद के लिए ऑक्सीजन उत्पादन संयंत्र, वेंटीलेटर्स और अन्य चिकित्सा सामान भेजेगा।यूरोप और विदेश मामलों के लिए फ्रांस के मंत्रालय ने कहा कि वह कोविड-19 महामारी से बुरी तरह प्रभावित भारत के लोगों की मदद के लिए असाधारण एकजुटता अभियान चला रहा है।
मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘‘मंत्रालय के संकट एवं सहयोग केंद्र और भारत में फ्रांस के दूतावास द्वारा चलाए गए इस अभियान के तहत इस हफ्ते के अंत तक वायु एवं समुद्री मार्ग से चिकित्सा सामान की आपूर्ति की जाएगी।’’भारत में फ्रांस के राजदूत एमैनुअल लेनिन ने कहा कि भारत और यूरोपीय संघ में मौजूद फ्रांसीसी कंपनियों के सहयोग से ‘‘बड़ा एकजुटता अभियान’’ चलाया जा रहा है।फ्रांस के विदेश मंत्रालय ने कहा कि भारत को की जाने वाली चिकित्सा आपूर्ति में आठ ऑक्सीजन जेनरेटर शामिल हैं जिनमें से प्रत्येक में करीब 10 वर्षों के लिए 250 बिस्तर वाले अस्पताल के लिए ऑक्सीजन की अबाधित आपूर्ति की क्षमता है।
मंत्रालय ने बताया कि पहली खेप के तौर पर लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन के पांच कंटेनर भेजे जा रहे हैं जो एक दिन में 10,000 मरीजों को ऑक्सीजन की आपूर्ति करने में सक्षम हैं।उसने बताया कि वह भारत को 28 वेंटीलेटर भी भेज रहा है।मंत्रालय ने बताया कि भारतीय अधिकारियों द्वारा चिकित्सा सामान की आवश्यकता जताए जाने के बाद यह आपूर्ति की जा रही है।


facebook twitter instagram