हितों के टकराव मामले में गांगुली को क्लीन चिट

नई दिल्ली : भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) अध्यक्ष सौरभ गांगुली को हितों के टकराव मामले में एथिक्स ऑफिसर और लोकपाल डीके जैन की ओर से क्लीन चिट मिल गई है। बंगाल क्रिकेट संघ (सीएबी) के पूर्व अध्यक्ष गांगुली ने सीएबी के अध्यक्ष के रूप में अपना इस्तीफा इसके सचिव अभिषेक डालमिया को सौंप दिया था। 

जैन ने पाया कि गांगुली ने इस्तीफा दे दिया है और फिर इसके बाद उनसे संबंधित किसी तरह का हितों का टकराव का मुद्दा नहीं बनता है। गांगलुी ने डालमिया को लिखे पत्र में लिखा कि 23 अक्टूबर, 2019 को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के अध्यक्ष के रूप में अपना कार्यभार संभालने के चलते मैंने तुरंत प्रभाव से बंगाल क्रिकेट संघ के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया। 

जैन ने अपने आदेश में कहा कि मेरे विचार में, गांगुली को लेकर किसी भी तरह के 'हितों का टकराव' का मुद्दा एथिक्स अधिकारी के लिए विचार करने योग्य नहीं है। इसलिए मौजूदा शिकायत को निपटाया जाता है। इस आदेश की प्रतियां शिकायतकर्ता, गांगुली और बीसीसीआई को भी भेजी जाती हैं।
Tags : पटना,Patna,law,Ravi Shankar Prasad,Union Minister,Dalit,Punjab Kesari ,Saurabh Ganguly,Board of Control for Cricket in India,DK Jain,Ethics Officer