गंभीर ने लगवाया सीसीटीवी, आप ने पूछा, सांसद निधि मिल गई क्या...

नई दिल्ली : पूर्वी दिल्ली में लोगों की सुरक्षा के लिए सरकारी स्तर पर सीसीटीवी कैमरे लगवाए जाने को लेकर बीजेपी और आम आदमी पार्टी (आप) के समर्थक सोशल मीडिया पर भिड़ गए। शनिवार को शुरू हुई उनकी तकरार रविवार को भी जारी रही। रविवार सुबह उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया अपने विधानसभा क्षेत्र पटपड़गंज में 2000 सीसीटीवी कैमरे लगाने के काम का शुरू करने वाले थे। इसके लिए ईस्ट विनोद नगर में एक बड़े कार्यक्रम का आयोजन भी किया गया। 

उससे पहले शनिवार की शाम को ईस्ट दिल्ली के बीजेपी सांसद और पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने एक विडियो ट्वीट कर जानकारी दी कि उन्होंने अपने क्षेत्र में महिलाओं की सुरक्षा के लिए सीसीटीवी कैमरे लगवाने का काम शुरू कर दिया है। इस ट्वीट में उन्होंने नाम लिए बिना दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के वादों पर भी सवाल उठाए, जिसके बाद दोनों पार्टी के समर्थक सोशल मीडिया पर एक-दूसरे से बहस करने में लग गए।

अपने ट्वीट में गौतम में लिखा था, 'ऊपरवाला अब और करीब से देखेगा। मेरी माताओं, बहनों की सेफ्टी और कुल मिलाकर अपराधों को कंट्रोल में करने के लिए मैंने आज से अपने लोकसभा क्षेत्र में सीसीटीवी कैमरे लगवाने का काम शुरू करवा दिया है।' गौतम गंभीर के इस ट्वीट पर आपत्ति जताते हुए आप विधायक सोमनाथ भारती ने ट्वीट कर पूछा, 'क्या इस तरह से आप एक चुने हुए मुख्यमंत्री को संबोधित करेंगे?’ 

उन्होंने आगे पूछा, 'एक बात और, यह जो 3 कैमरे आप लगवा रहे हैं, यह सांसद निधि से है या अभी-अभी वर्ल्ड कप में लिए कमेंट्री से कमाए गए धन से लगवा रहे हैं?' उसके बाद आप के नेशनल मीडिया को-ऑर्डिनेटर विकास योगी ने भी ट्वीट कर गंभीर के द्वारा कैमरे लगवाए जाने पर सवाल उठाए। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि गजब हो सांसद साहब, कमेंट्री करते-करते इतना झूठ कैसे? 

रविवार की सुबह गौतम गंभीर ने कैमरे लगाने वाली कंपनी की तरफ से उन्हें लिखी गई एक चिट्ठी अपने एक ट्वीट के साथ शेयर करते हुए लिखा, 'सर जी की गैंग के मेरे सभी प्रिय दोस्तों, जो कल रात को डिनर से लेकर आज सुबह के नाश्ते तक कई तरह की षडयंत्रकारी कहानियां रच रहे थे, वे यह अटैचमेंट देख लें। 
Download our app