+

सोनिया से बगावत के बाद आज पहली बार मिलेंगे गहलोत, पायलट ने भी दिल्ली में डाला डेरा

कांग्रेस अध्यक्ष पद को लेकर पार्टी में काफी समय से बवाल चला रहा है।बस थोड़े ही दिनों बाद अध्यक्ष पद के चुनाव होने वाले है।
सोनिया से बगावत के बाद आज पहली बार मिलेंगे गहलोत, पायलट ने भी दिल्ली में डाला डेरा
कांग्रेस अध्यक्ष पद को लेकर पार्टी में काफी समय से बवाल चला रहा है।बस थोड़े ही दिनों बाद अध्यक्ष पद के चुनाव होने वाले है। चुनाव को लेकर राजस्थान में घमासान मचा हुआ है। राजस्थान में मचे सियासी संग्राम का अब तक कोई हल नहीं निकल पाया है।ये लड़ाई सिर्फ यही तक नहीं अब इसकी आहट दिल्ली में सुनाई देने लगी है। जयपुर की लड़ाई ने अब दिल्ली में दस्तक दे दी है।    
आपको बता दे कि मलिकार्जुन खड़गे-अजय माकन दोनों ने अपनी रिपोर्ट को सोनिया गांधी को दी। राजस्थान में चल रही  सियासी जंग खत्म होने का नाम ही नहीं ले रही है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट दोनों ही इस समय दिल्ली में है। दोनों ही आलाकमान  के दर पर दस्तक देने वाले है। ऐसे में सबसे बड़ा सवाल है कि क्या पायलट और गहलोत के बीच समझौता कैसे होता है।  
कांग्रेस के कई बड़े नेताओं ने दिल्ली में डाला डेरा 
राजस्थान में काफी समय से सियासी खींचतान  के चलते सचिन पायलट दो दिनों से दिल्ली में है।इसी बीच ये बात चल रही थी कि सचिन पायलट बुधवार को प्रियंका गांधी से मुलाकात करेंगे।इसी बीच सीएम अशोक गहलोत भी दिल्ली पहुंच गए।  बताया जा रहा है कि गुरुवार को गहलोत सोनिया गांधी से मुलाकात करने वाले है। इसके साथ ही कांग्रेस के कई बड़े नेता भी दिल्ली में डेरा डेल हुए है।  
दरसअल, आपको बता दे कि पिछले कुछ दिनों से अशोक गहलोत जुट के 82 विधायकों ने कांग्रेस को इस्तीफा दिया था। जिसकी वजह से कांग्रेस आलाकमानकी काफी ज्यादा बेइज्जती हुई थी। लेकिन इसके बाद ही पता चला कि अशोक गहलोत ने सोनिया गांधी से माफी मांग ली थी।  
facebook twitter instagram