+

आंध्र प्रदेश-तेलंगाना से दिल्ली आ रहे लोगों के लिए सरकार ने जारी किए नए दिशा-निर्देश, जानिए क्या है पाबंदियां

राजधानी में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के चलते दिल्ली सरकार ने बड़ा फैसला किया है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने नई गाइडलाइंस जारी की है।
आंध्र प्रदेश-तेलंगाना से दिल्ली आ रहे लोगों के लिए सरकार ने जारी किए नए दिशा-निर्देश, जानिए क्या है पाबंदियां
राजधानी में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के चलते दिल्ली सरकार ने बड़ा फैसला किया है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने नई गाइडलाइंस जारी की है। इन नए दिशा-निर्देशों के मुताबिक आंध्रप्रदेश और तेलंगाना से दिल्ली आने वाले लोगों को 14 दिन के लिए क्वारंटाइन में रखा जाएगा। दिल्ली डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी (डीडीएमए) ने इन नए दिशा-निर्देशों का आदेश जारी किया है। नई गाइडलाइंस के मुताबिक जो लोग ट्रेन, बस या हवाई जहाज किसी भी ट्रांसपोर्ट से दिल्ली आएंगे तो उनहें इंस्टीट्यूशनल या पेड क्वारंटाइन करना होगा। 
दरअसल, जिन यात्रियों की 72 घंटे पहले जिनकी आरटीपीसीआर रिपोर्ट नेगेटिव आई है और जिन लोगों को वैक्सीन की दोनों खुराक लग गई हैं, उन्हें सिर्फ 7 दिन के लिए होम क्वारंटाइन किया जाएगा। हालांकि आंध्र प्रदेश और तेलंगाना से दिल्ली होते हुए बिना रुके कहीं और जाने की अनुमति दी गई है, जो लोग बिना कोरोना लक्षण वाले हें और ऑफिशियल काम से दिल्ली आ रहे हैं उनके क्वारंटीन रहना अनिवार्य नहीं है। बता दें की ऑक्सीजन किल्लत को लेकर दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने कहा है कि हमने बहुत बड़े स्तर पर योजना बनाई है कि अगर हमें 700 मिट्रिक टन ऑक्सीजन प्रतिदिन मिलती है, तो हम राधा स्वामी सत्संग ब्यास में 5 हजार बेड बना सकते हैं। 
सीएम केजरीवाल ने आगे कहा कि हम लोगों ने बुराड़ी अस्पताल में 2 जगह 2500 बेड बनाए हुए हैं। कामनवेल्थ गेम्स विलेज के अंदर एक हजार बेड तैयार किए हैं। यमुना स्पोर्ट्स काम्प्लेक्स के अंदर एक हजार बेड तैयार किए हुए हैं। इस तरह, अगर हमें समुचित मात्रा में ऑक्सीजन मिले तो, हम 9000 से 9500 बेड तुरंत तैयार कर सकते हैं। अगर 700 मिट्रिक टन ऑक्सीजन प्रतिदिन आने लग गई, तो मैं आपको यकीन दिलाता हूं कि दिल्ली में किसी भी व्यक्ति की ऑक्सीजन की कमी की वजह से मौत नहीं होने देंगे।

facebook twitter instagram