+

सरकार ने कहा, किसानों से किसी भी समय बातचीत के लिए तैयार

किसानों के लगातार तीसरे दिन भारी विरोध प्रदर्शन के बीच सरकार ने शनिवार को कहा कि वह उनके साथ कभी भी बातचीत के लिए तैयार है और साथ ही उनसे आंदोलन बंद करने का आग्रह भी किया।
सरकार ने कहा, किसानों से किसी भी समय बातचीत के लिए तैयार
किसानों के लगातार तीसरे दिन भारी विरोध प्रदर्शन के बीच सरकार ने शनिवार को कहा कि वह उनके साथ कभी भी बातचीत के लिए तैयार है और साथ ही उनसे आंदोलन बंद करने का आग्रह भी किया। 
केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि किसानों की चिंताओं को दूर करने के लिए तीन दिसंबर को 32 प्रदर्शनकारी किसान संगठनों के साथ एक बैठक पहले ही निर्धारित की जा चुकी है, और यदि ये संगठन चाहें तो सरकार उनके नेताओं से पहले भी बातचीत करने के लिए तैयार है। 
तोमर ने किसानों से विरोध खत्म करने की अपील करते हुए कहा कि किसान यूनियनों के नेताओं को बातचीत के लिए आना चाहिए क्योंकि चर्चा के बाद ही समाधान मिल सकता है। 
तोमर ने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘किसानों को विरोध खत्म करना चाहिए और चर्चा के लिए आना चाहिए। भारत सरकार चर्चा के लिए पूरी तरह तैयार है। अगर किसान यूनियन अपना प्रस्ताव भेजती हैं, तो हम इस पर विचार करने के लिए तैयार हैं।’’ 
उन्होंने कहा, ‘‘किसान हमारे अपने लोग हैं। कृषि मंत्रालय किसानों के कल्याण के लिए काम कर रहा है। ’’ 
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी शनिवार को किसानों से अपील की कि वे अपना विरोध प्रदर्शन करने के लिए राष्ट्रीय राजधानी के बुराड़ी मैदान में चले जाएं। साथ ही उन्होंने कहा कि किसानों के निर्धारित स्थल पर जाते ही केंद्र सरकार उनके साथ वार्ता करने के लिए तैयार है। 
गृह मंत्रालय के आधिकारिक व्हाट्सऐप ग्रुप पर शाह की अपील को पोस्ट किया गया है। यह अपील हिंदी में की गई है। 
शाह ने अपनी अपील में कहा, ‘‘पिछले कुछ दिनों से, पंजाब और हरियाणा तथा देश के कुछ अन्य हिस्सों के किसान दिल्ली की सीमा पर आए हुए हैं। किसान कल से ही दिल्ली की सीमा के पास दो प्रमुख राजमार्गों पर इकट्ठा हो गए हैं। किसानों को भारी ठंड के कारण काफी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। अन्य लोगों को भी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।’’ 
उन्होंने कहा, ‘‘इसलिए, हमारे किसान भाइयों से मेरी विनम्र अपील है कि सरकार ने दिल्ली के बुराड़ी में आपके लिए उचित व्यवस्था की है, जहाँ आप अपना प्रदर्शन कर सकते हैं।’’ 
facebook twitter instagram