+

हाथ का साथ छोड़ना हार्दिक पर पड़ रहा भारी? जानें क्यों बंद करना पड़ा कमेंट सेक्शन... जल्द मिलेगी सुरक्षा

हार्दिक पटेल हाल ही में कांग्रेस का साथ छोड़कर भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए हैं, जिसके बाद से ही पटेल को लोगों की नाराजगी का सामना करना पड़ रहा है।
हाथ का साथ छोड़ना हार्दिक पर पड़ रहा भारी? जानें क्यों बंद करना पड़ा कमेंट सेक्शन... जल्द मिलेगी सुरक्षा
हार्दिक पटेल (Hardik Patel) हाल ही में कांग्रेस (Congress) का साथ छोड़कर भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) में शामिल हुए हैं, जिसके बाद से ही पटेल को लोगों की नाराजगी का सामना करना पड़ रहा है। हार्दिक पटेल को मिल रही धमकियों के बीच लोग उन्हें सोशल मीडिया के माध्यम से खरी खोटी सुनाने का मौका नहीं छोड़ रहे हैं। ऑनलाइन दुर्व्यवहार झेल रहे हार्दिक पटेल ने फेसबुक (Facebook) पर 'कमेंट' सेक्शन को बंद कर दिया है। वहीं लगातार धमकी भरे संदेशों को देखते हुए राज्य प्रशासन ने पाटीदार नेता को पुलिस सुरक्षा मुहैया कराने का फैसला किया है। 
हार्दिक पटेल ने फेसबुक पर बंद किया कमेंट सेक्शन 
मंगलवार को हार्दिक पटेल ने एक फेसबुक पोस्ट के जरिए लोगों को मिस्ड कॉल देकर बीजेपी में शामिल होने की अपील की थी। बता दें कि यह पोस्ट गुजरात में भाजपा के सदस्यता अभियान का ही एक हिस्सा थी, इस पोस्ट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi), गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) और भाजपा प्रमुख जेपी नड्डा (JP Nadda) के साथ हार्दिक पटेल की तस्वीर थी साथ ही पोस्ट में टोल-फ्री नंबर भी दिया गया था।
पोस्ट के कमेंट सेक्शन में पटेल को लोगों की नाराजगी का सामना करना पड़ा, लोगों ने उन्हें भाजपा में जाने के लिए गलियां भी दी। उनके पोस्ट में तकरीबन 150 से अधिक अपमानजनक टिप्पणियां दर्ज की गईं थी, इसलिए पटेल को अपने फेसबुक पेज पर कमेंट सेक्शन को बंद करना पड़ा।
गुजरात के CM भूपेंद्र समेत कई मंत्रियों ने मिस की हार्दिक की जॉइनिंग 
हार्दिक पटेल के बीजेपी में शामिल होने से पहले उनके भगवा पार्टी पर हमला करने वाले पुराने वीडियो सोशल मीडिया पर फिर से वायरल हो रहे थे। हफ्तों की अटकलों पर विराम लगते हुए, हार्दिक पटेल ने गुरुवार 2 जून को भाजपा में शामिल होने पर कमल के साथ भगवा टोपी पहन ली।
राज्य भाजपा अध्यक्ष सीआर पाटिल और वरिष्ठ नेता नितिन पटेल ने हार्दिक पटेल का अहमदाबाद में पार्टी में स्वागत किया। हालांकि, केंद्रीय और राज्य मंत्री के साथ-साथ गुजरात के सीएम भूपेंद्र पटेल (Bhupendra Patel) ने भी हार्दिक की जॉइनिंग को मिस कर दिया। 
हार्दिक पटेल ने कांग्रेस को लेकर कही यह बात 
हार्दिक को पार्टी में शामिल करने का मकसद इस साल दिसंबर में होने वाले विधानसभा चुनाव में गुजरात के पाटीदार मतदाताओं को लुभाना है। हार्दिक पटेल ने यह दावा करते हुए कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया था कि पार्टी के शीर्ष नेता 'ध्यान भटकाते हैं' और गुजरात कांग्रेस के नेता "उनके लिए चिकन सैंडविच की व्यवस्था" में ज्यादा रुचि रखते हैं।

दिल्ली : जहांगीरपूरी में हुई झड़प का नहीं है साम्प्रदायिक एंगल, पुलिस ने किया बड़ा खुलासा

facebook twitter instagram