+

मेंटल हेल्थ पर हार्दिक पांड्या ने कही दिल की बात, बताया कैसे पड़ता है खिलाड़ियों पर असर

भारत और मुंबई इंडियंस के आल राउंडर हार्दिक पंड्या ने बुधवार को कहा कि उन्हें अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलते हुए मानसिक स्वास्थ्य की अहमियत महसूस हुई और खुद को मानसिक रूप से मजबूत बनाये रखने के लिये उन्होंने अपने परिवार को श्रेय दिया।
मेंटल हेल्थ पर हार्दिक पांड्या ने कही दिल की बात, बताया कैसे पड़ता है खिलाड़ियों पर असर
भारत और मुंबई इंडियंस के आल राउंडर हार्दिक पांड्या ने बुधवार को कहा कि उन्हें अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलते हुए मानसिक स्वास्थ्य की अहमियत महसूस हुई और खुद को मानसिक रूप से मजबूत बनाये रखने के लिये उन्होंने अपने परिवार को श्रेय दिया।


मुंबई इंडियंस द्वारा अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर पोस्ट किये वीडियो में हार्दिक ने कहा, जब मैंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेला तो मुझे महसूस हुआ कि आपकी जिंदगी में किस तरह का दबाव शामिल हो जाता है। निश्चित रूप से जिंदगी हमारे लिये बदलती है लेकिन व्यक्तिगत रूप से भी आपको सभी चीजों से उबरने की जरूरत होती है। 


उन्होंने कहा, इसलिये मुझे महसूस हुआ कि मानसिक स्वास्थ्य भी अहम है, जिसमें मेरे परिवार ने काफी बड़ी भूमिका अदा की जिन्होंने सुनिश्चित किया कि मैं सही जगह बना रहूं। मानसिक रूप से स्वस्थ होने पर ध्यान पिछले साल से ज्यादा दिया जा रहा है क्योंकि कोविड-19 महामारी ने खिलाड़ियों को जैविक रूप से सुरक्षित माहौल में रहने को मजबूर कर दिया जिसमें उनकी जिंदगी केवल होटल और स्टेडियम तक ही सीमित हो जाती है।


उन्होंने कहा,दिन में सुनिश्चित कीजिये कि आप किसी तरह की ‘एक्टिविटी’ में हिस्सा लें जिससे आपकी फिटनेस ही अच्छी होगी, यह काफी महत्वपूर्ण है। अगर आप छोटी छोटी चीजों का ध्यान रखोगे तो यह आपके शरीर के ध्यान के लिये अच्छा होगा। 


पांच बार चैम्पियन बनी मुंबई इंडियंस शुक्रवार को इंडियन प्रीमियर लीग के शुरूआती मुकाबले में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर से भिड़ेगी। भारत के लिये 60 वनडे और 48 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुके हार्दिक ने विश्व स्वास्थ्य दिवस के मौके पर शारीरिक फिटनेस की अहमियत पर भी जोर दिया।
facebook twitter instagram