+

हाथरस केस - पीड़ित परिवार का घर पुलिस छावनी में हुआ तब्दील, CCTV समेत मेटल डिटेक्टर भी लगाये गये

हाथरस में कथित सामूहिक बलात्कार के बाद जिंदगी की जंग हारने वाली दलित युवती के परिवार की सुरक्षा में पुलिस ने उनके घर के बाहर और अंदर आठ सीसीटीवी कैमरे और एक मेटल डिटेक्टर लगाया है।
हाथरस केस -  पीड़ित परिवार का घर पुलिस छावनी में हुआ तब्दील, CCTV समेत मेटल डिटेक्टर भी लगाये गये
हाथरस में कथित सामूहिक बलात्कार के बाद जिंदगी की जंग हारने वाली दलित युवती के परिवार की सुरक्षा में पुलिस ने उनके घर के बाहर और अंदर आठ सीसीटीवी कैमरे और एक मेटल डिटेक्टर लगाया है। इसके अलावा पीड़ित परिवार के घर के पास दमकल की एक गाड़ी तथा खुफिया विभाग के कर्मचारी भी तैनात कर दिये गये हैं। घर के आसपास के इलाके को पूरी तरह से छावनी में बदल दिया गया है । 
उत्तर प्रदेश शासन की तरफ से परिवार के सुरक्षा इंतजामों की निगरानी के लिये लखनऊ से नोडल अधिकारी बना कर हाथरस भेजे गये पुलिस उप महानिरीक्षक शलभ माथुर ने शुक्रवार को बताया, ''पीड़ित परिवार के घर के बाहर 12-12 घंटे की शिफ्ट में करीब 60 जवान तैनात किये गये है । इन पुलिसकर्मियों के लिये खाने पीने, बैठने, कुर्सी, पंखे आदि की भी व्यवस्था की गयी है । इन पुलिसकर्मियों की निगरानी के लिये एक राजपत्रित अधिकारी भी शिफ्टों में 24 घंटे तैनात रहेगा ।'' 
उन्होंने कहा कि सीसीटीवी कैमरों से पीड़ित परिवार के घर की 24 घंटे निगरानी की जा रही है और अगर आवश्यकता पड़ी तो जल्द ही एक नियंत्रण कक्ष भी बनाया जाएगा। हाथरस के पुलिस अधीक्षक विनीत जायसवाल ने बताया कि पीड़ित परिवार से मिलने आने वालों की जानकारी रखने के लिए एक आगंतुक रजिस्टर भी रखा गया है। 
उन्होंने बताया कि परिवार के प्रत्येक सदस्य एवं गवाहों की सुरक्षा के लिए दो दो सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए है । परिवार की महिला सदस्यों हेतु महिला सुरक्षाकर्मी की तैनाती की गयी है । जायसवाल ने बताया कि घर के मुख्य द्वार पर मेटल डिटेक्टर भी लगा दिया गया है जिससे घर आने जाने वाले प्रत्येक व्यक्ति की जांच की जाएगी। जायसवाल के मुताबिक इन सब सुरक्षा इंतजामों की निगरानी 24 घंटे वरिष्ठ पुलिस अधिकारी कर रहे हैं । 
facebook twitter instagram