+

हिन्दुस्तान का हिन्दु और मुस्लिम दो खुबसुरती आंखे है : सैयद गुलरेज होदा

हिन्दुस्तान का हिन्दु और मुस्लिम दो खुबसुरती आंखे है : सैयद गुलरेज होदा
बेतिया : प्रखंड के तेलपुर देवराज के जामिया पब्लीक स्कुल में सर सैयद डे सह वार्षिकोत्सव समारोह मनाया गया।कार्यक्रम में मुख्य अतिथी पुव आईएएस  सैयद गुलरेज होदा नरकटियागंज की पुर्व विधायीका रश्मी वर्मा जिला पार्षद नाजीया परवीन सामाजीक कार्यकत्र्ता आशुतोष मल्ल राजीव दुबे श्यामानंद राम विधालय के डायरेक्टर असगर इमाम जामयी व राजद नेता वसीम मंजर ने संयुक्त रुप से  उदघाटन किया।

पुर्व आईएएस सैयद गुलरेज होदा ने कहा कि सर सैयद अहमद खान कहते थे हिंदुस्तान एक खूबसूरत दुल्हन की तरह है। हिन्दु और मुस्लिम इसकी दो खूबसूरत आंखे है। उनका मानना था कि लफ्ज का जवाब लफ्ज से दिया जाना चाहिए। इल्म का जवाब इल्म से दिया जाना चाहि। किताब का जवाब किताब से दिया जाना चाहिय। उनका मानना था कि तीर और तलवार से मसला हाल नहि होगा। उन्होंने पढऩे की तरफ जोर दिया और शिक्षा से ही समाज का देश का कल्याण होगा ऐसा उनका मानना था। 

1857 के विद्रोह में सब कुछ तबाह वो बर्बाद हो गया था तब एक जुट करने के लिए एक किताब लिखी असबाब ए बग़ावत ए हिन्द। तनजानिया गए वहा आक्स्फर्ड विश्वविधलाय,कैमब्रिज विश्व विधलाय को देखा और वही ठान लिए की हिंदुस्तान पहुंच कर इसी तजऱ् पर एक कॉलेज बनाऊंगा आज अलीगढ़ मुस्लिम विश्व विधालय उन्ही के मेहनत का नतीजा है जहां देश के हर जात धर्म के बच्चे आज उसी विश्वविधालय से पढ़ कर दुनिया के कोने कोने में परचम लहरा रहे है।  रश्मी वर्मा ने कहा की सर सैयद महान दार्शनीक व शिक्षाविद् थे उनके बताये रास्ते पर चलना ही युवा पीढ़ी के लिये अनुकरणीय होगा।

वहीं राजद नेता वसीम मंजर ने उपसिथीत लोगों को सर सैयद डे के किये गये सामाजीक कार्यो के बारे में विस्तार से बताया। सर सैयद डे ने अलीगढ़ विश्वविद्यालय की स्थापना कर दबे कुचले अल्पसंख्यकों को शिक्षीत कर समाज में मुख्यधारा में शामिल होने का मौका दिया है। मौके पर बदरुल हसन कैफ तनुज वमा  अफजल रजी अहमद नफीस सोनु नेहाल अख्तर अतहर हुसैन सहित काफी संख्या में लोग उपस्थित थे।
facebook twitter