तेलंगाना के एक हॉस्टल में पानी की कमी के कारण प्रिंसिपल ने कटवाए 150 छात्राओं के बाल

दक्षिण के तेलंगाना राज्य से  एक अजीबो-गरीब मामला सामने आया है। मेंढक जिले के एक स्कूल के हॉस्टल में पानी की कमी की वजह से करीब 150 छात्राओं को बाल कटवाने के लिए मजबूर कर दिया गया। यह वाक्या एक गुरुकुल स्कूल का है, जहां की प्रधानाचार्य के. अरुणा ने 150 छात्राओ के जबरदस्ती बल कटवा दिए।  

प्राप्त जानकारी के अनुसार स्कूल की प्रिंसिपल ने ऐसी घिनौनी हरकत इसीलिए की क्योंकि छात्राओं के नहाने के लिए पर्याप्त पानी मौजूद नहीं था। यह घटना रविवार की है,लेकिन यह मामला मंगलवार को तब सामने आया जब छात्राओं के माता-पिता ने रविवार को छात्रावास का दौरा किया। स्कूल की प्रिंसिपल की इस हरकत के बाद छात्राओ व उनके अभिभावकों ने स्कूल के बाहर प्रिंसिपल के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया। 

सूत्रों के अनुसार स्कूल की प्रधानाचार्य ने स्कूल में दो सलून वालो को बुलाया और छात्राओं  से जबरन 25 -25 रूपए लिए और उनके बल कटवा दिए। हालांकि प्रिंसिपल ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को सिरे से नकारते हुए कहा कि छात्राओं के बाल उनकी साफ़-सफाई के लिए और कुछ छात्राएं त्वचा की बीमारियों से पीड़ित थी, इसीलिए ऐसा कदम उनकी सहमति से उठाया गया। वही, घटना की जानकारी पाते ही स्थानीय प्रशासन ने जांच काआदेश दें दिया है। 
Download our app
×