+

अगर जायीय जनगणना होती है तो जो ज्यादा आरक्षण लेते है, उन्हें आरक्षण छोड़ना होगा- उपेंद्र कुषवाहा

बिहार यात्रा पर निकले जेडीयू संसदीय बोर्ड के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने जातीय जनगणना और आरक्षण के मुद्दे पर बड़ा बयान दिया है। उपेंद्र कुशवाहा ने कहा है कि जो लोग ज्यादा आरक्षण का लाभ ले रहे हैं उन्हें जातीय जनगणना के बाद आरक्षण छोड़ना होगा।
अगर जायीय जनगणना होती है तो जो ज्यादा आरक्षण लेते है, उन्हें आरक्षण छोड़ना होगा- उपेंद्र कुषवाहा
सुपौल, संवाददाता बिहार यात्रा पर निकले जेडीयू संसदीय बोर्ड के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने जातीय जनगणना और आरक्षण के मुद्दे पर बड़ा बयान दिया है। उपेंद्र कुशवाहा ने कहा है कि जो लोग ज्यादा आरक्षण का लाभ ले रहे हैं उन्हें जातीय जनगणना के बाद आरक्षण छोड़ना होगा। अगर जातीय जनगणना होती है तो अगड़े और पिछड़े सभी को लाभ मिलेगा। 
उपेंद्र कुशवाहा बिहार यात्रा के दौरान सुपौल में गुरुवार को मीडिया को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने यह सारी बातें कहीं। उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार लगातार जातीय जनगणना को लेकर प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी मिलकर जातीय जनगणना कराने के लिए आग्रह किया है। अगर जातीय जनगणना होती है तो इसका लाभ सभी को मिलेगा और जो लोग ज्यादा आरक्षण लेते हैं उन्हें ये लाभ छोड़ना होगा। 
बता दें कि गुरुवार को सुपौल पहुंचे जेडीयू नेता उपेंद्र कुशवाहा का कई जगहों पर कार्यक्रम है। वे कोरोना से मृत व्यक्ति के परिजनों से मुलाकात करेंगे। इसके साथ ही राघोपुर में जनसंवाद कार्यक्रम को संबोधित करेंगे। वहीं बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा जो जनहित में कार्य किए जा रहे हैं। उसको जन.जन तक पहुंचाने की अपील करेंगे। पिछले विधानसभा चुनाव में जो पार्टी का स्थिति नंबर दो की रही उसे पुनः बिहार में नंबर वन की पार्टी बनाने पर भी बल देंगे। 
facebook twitter instagram