+

कुशीनगर में शिक्षक के हत्यारोपी को गांव वालों ने उतारा मौत के घाट, तमाशबीन बनी रही पुलिस

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक शिक्षक की सोमवार सुबह गोली मारकर हत्‍या कर दी गई। इस घटना से पूरे इलाके में तनाव फैल गया है।
कुशीनगर में शिक्षक के हत्यारोपी को गांव वालों ने उतारा मौत के घाट, तमाशबीन बनी रही पुलिस
उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में एक शिक्षक की सोमवार सुबह गोली मारकर हत्‍या कर दी गई। इस घटना से पूरे इलाके में तनाव फैल गया है। शिक्षक की हत्‍या के बाद बदमाश उनके घर की छत पर चढ़कर हवाई फायरिंग कर दहशत फैलाने की कोशिश करने लगा। मामाल तरयासुजान थाना क्षेत्र के रामपुर बंगरा गांव का है। मौके पर पहुंची पुलिस ने तफ्तीश शुरू कर दी है। साथ ही दोनों लाशों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। 
इस मामले की जानकारी लोगों ने पुलिस को दी लेकिन करीब डेढ़ घंटे बाद जब पुलिस मौके पर पहुंची तब तक भीड़ अपना सब्र खो चुकी थी। घटनास्थल पर मौजूद लोगों के मुताबिक हत्‍यारोपी आत्‍मसमर्पण करना चाहता था लेकिन बेकाबू भीड़ ने लाठी-डंडे से पीट-पीटकर उसे मार डाला। इस दौरान पुलिस मूकदर्शक बनी तमाशा देखती रही। तरया सुजान थाना क्षेत्र के रामपुर बंगरा निवासी सुधीर सिंह पुत्र मोहर सिंह सीमावर्ती बिहार में शिक्षक थे। 
गोली की आवाज सुनकर सभी गांव वाले वह आ गए और हमलावर की घेराबंदी करके पुलिस को सूचना दी। ग्रामीणों का आरोप है कि सूचना के बावजूद पुलिस लगभग डेढ़ घण्टे की देरी से मौके पर पहुंची। कुछ ग्रमीणों के मुताबिक पुलिस को देखकर हमलावर ने दोनों हाथ ऊपर उठाकर आत्मसमर्पण करने का प्रयास किया लेकिन गुस्साई भीड़ हमलावर के ऊपर टूट पड़ी।
पुलिस पूरे घटनाक्रम के दौरान लाचार नजर आई। सीओ तमकुहीराज की अगुवाई में पुलिस हत्‍यारोपी को मौके से निकालने की कोशिश में जुटी थी। लेकिन ग्रामीणों के आक्रोश के कारण कई बार संघर्ष की स्थिति आ गई। ग्रामीण किसी भी दशा में हमलावर को पुलिस को हवाले करने को तैयार नहीं थे। मौके पर अब भी तनाव की स्थिति बनी हुई है।
facebook twitter