महामारी को देखते हुए ICC ने कहा- क्रिकेट उसी स्थिति में बहाल हो जब स्थानीय स्तर पर बीमारी फैलने का खतरा न हो

09:45 PM May 23, 2020 | Adesh Dubey
अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने अपने सदस्य देशों को क्रिकेट गतिविधियों को फिर से शुरू करने के लिए सावधानी बरतने की सलाह देते हुए कहा कि कई देश अभी कोविड-19 महामारी से जूझ रहे है, ऐसे में स्थानीय स्तर पर संक्रमण के प्रसारण को ध्यान में रखना होगा। कई सदस्य देशों में महामारी को फैलने से रोकने के लिए प्रतिबंध लगाये गये है। आईसीसी ने भी शुक्रवार को खेल को शुरू करने के लिए दिशानिर्देश जारी किए है जिसमें सुरक्षा प्रॉटोकॉल को सर्वोच्च प्राथमिकता दी गई है।

आईसीसी ने अपने दिशानिर्देश में कहा, ‘‘क्रिकेट गतिविधियों को तभी शुरू करना चाहिए जब कोई जोखिम न हो। जोखिम की स्थिति में ऐसा करने से स्थानीय संक्रमण दर में वृद्धि हो सकती है।’’ क्रिकेट खेलने वाले देशों में इंग्लैंड इस महामारी से सबसे ज्यादा प्रभावित है जबकि भारत और पाकिस्तान में पिछले कुछ सप्ताह में कोविड-19 के मामले तेजी से बढ़े है। 

इस खेल का संचालन करने वाली वैश्विक निकाय ने कहा, ‘‘यह सुनिश्चित करने के लिए हर संभव प्रयास किया जाना चाहिए कि किसी भी प्रशिक्षण सत्र या मैच से पहले क्रिकेट के माहौल से जुड़े जोखिम को कम किया जाए। इसमें खेल का मैदान, प्रशिक्षण स्थल, कमरे, उपकरण, गेंद के प्रबंधन शामिल है। इस महामारी के कारण इंडियन प्रीमियर लीग जैसे चकाचौंध से भरे टूर्नामेंट और कई द्विपक्षीय श्रृंखलाओं को स्थगित कर दिया गया है।

क्रिकेट भले ही एक गैर-संपर्क खेल है, लेकिन आईसीसी इस अभूतपूर्व स्वास्थ्य संकट को देखते हुए सावधानी बरत रहा है। आईसीसी ने कहा कि उसके सदस्य देशों को उनसे संबंधित सरकारों के दिशा-निर्देश का पालन करना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘‘आईसीसी के सदस्य (और उससे से जुड़ी इकाई) को खेल को शुरू करने से जुड़ फैसला अपने संबंधित सरकारों के दिशा-निर्देश के मुताबिक करना चाहिए।’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘ जहां खेल गतिविधियों को सरकारों द्वारा स्पष्ट रूप से मना किया गया है वहां कोई भी क्रिकेट गतिविधि तब तक शुरू नहीं होनी चाहिए जब तक कि ऐसा करने की मंजूरी सरकार से नहीं मिल जाती है। अंतरराष्ट्रीय या घरेलू यात्रा और पृथकवास में भी सरकार के नियमों का पालन करना चाहिए।’’आईसीसी ने सुरक्षा प्रोटोकॉल को लेकर खिलाड़ियों और अन्य सभी हितधारकों को करने की आवश्यकता पर जोर दिया।


Related Stories: