बिहार में भारी बारिश के मद्देनजर नीतीश ने आज फिर बैठक की, पटना में जलजमाव वाले इलाकों का दौरा किया

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रदेश में लगातार हो रही मूसलाधार बारिश के मद्देनजर रविवार को फिर बैठक की और पटना में जलजमाव वाले इलाकों का दौरा की हालात का जायजा लिया। 

पटना के सरदार पटेल भवन स्थित आपदा प्रबंधन विभाग में अपने कक्ष में नीतीश ने आलाधिकारियों के साथ रविवार को उच्चस्तरीय बैठक की। 

बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि गंगा नदी के दोनों किनारे स्थित 12 जिलों में कहीं-कहीं लोगों के लिये दिक्कत की स्थिति पैदा हो गयी। अब पिछले पांच-छह दिन से लगातार भारी बारिश हो रही है। कोई सूचना नहीं है कि अब रुकेगी। मौसम विभाग भी सटीक अनुमान नहीं लगा पा रहा है। 

नीतीश ने कहा कि इससे मुश्किलें तो पैदा हो रही हैं लेकिन हर जगह आपदा प्रबंधन विभाग और जिला प्रशासन एकजुट होकर काम कर रहा है। उन्होंने कहा कि पटना में सिर्फ राजेन्द्र नगर ही नहीं अनेक जगहों पर पानी घुस गया है। 

उन्होंने कहा कि हर जगह काम हो रहा है और पटना में भी जितना संभव है, काम किया जा रहा है। लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाना, पेयजल की व्यवस्था, दूध की उपलब्धता आदि सुनिश्चित की जा रही है। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि यह हमारे हाथ में नहीं था। राज्य सूखे की स्थिति में था और अब बाढ़ आ गयी है। इन आपदाओं में हम पीड़ितों की हर संभव सहायता का प्रयास कर रहे हैं। 

उन्होंने राहत शिविरों का इंतजाम किया गया है। इन हालात में लोगों को हौसला बुलंद रखना पड़ेगा। प्रशासन हरसंभव सहायता उपलब्ध कराने के लिये तत्पर है। 

बैठक में मुख्य सचिव दीपक कुमार, पुलिस महानिदेशक गुप्तेश्वर पाण्डेय और आपदा प्रबंधन विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत उपस्थित थे। 

मुख्यमंत्री ने आज अपराह्न में पटना में जलजमाव वाले इलाकों का दौरा कर स्थिति की जानकारी ली। 



Tags : Bihar Chief Minister,Nitish Kumar,torrential rains,water logging,Rain,TOP News ,Nitish Kumar,Bihar,areas,Patna,meeting,water logging areas,state