+

कोरोना की रेस में भारत ने अमेरिका को छोड़ा पीछे, जल्द ही ब्राजील से भी अधिक होंगे मामले

भारत में कोरोना संक्रमण के रोजाना बढ़ते आंकड़ों को देखते हुए इसका अंदाजा साफ़ लगाया जा सकता है कि अब कोरोना तेजी से बढ़ने लगा है। नए मामलों के लिहाज से देखें तो भारत ने मौजूदा समय में अमेरिका को पीछे छोड़ दिया है। जल्द ही भारत ब्राजील से भी आगे निकल जाएगा।
कोरोना की रेस में भारत ने अमेरिका को छोड़ा पीछे, जल्द ही ब्राजील से भी अधिक होंगे मामले
भारत में कोरोना संक्रमण के रोजाना बढ़ते आंकड़ों को देखते हुए इसका अंदाजा साफ़ लगाया जा सकता है कि अब कोरोना तेजी से बढ़ने लगा है। रविवार को स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार भारत में कोरोना संक्रमण के 93,249 नए केस सामने आए हैं। यह पिछले साल 17 सितंबर के बाद अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। 
इसके साथ ही शुक्रवार की बात करें तो देश में 89,030 केस आए थे। इन नए मामलों के लिहाज से देखें तो भारत ने मौजूदा समय में अमेरिका को पीछे छोड़ दिया है। भारत में अब अमेरिका से अधिक नए केस आ रहे हैं। मौजूदा स्थिति को देखकर यह साफ लग रहा है कि जल्द ही भारत ब्राजील से भी आगे निकल जाएगा। 
शुक्रवार तक सात दिनों में भारत में कोरोना वायरस के औसतन एक दिन में 68,969 नए मामले दर्ज किए गए। उसी दिन अमेरिका में 65,753 केस दर्ज हुए। जबकि ब्राजील में एक हफ्ते की अवधि में एक दिन में 72,151 नए मामले दर्ज हुए।  ब्राजील में कोरोना संक्रमण का संकट हफ्ते में औसतन करीब 0.92 फीसदी की दर से घट रहा है। अमेरिका में नए मामले बढ़ रहे हैं। इनकी रफ्तार 0.87 फीसदी है। हालांकि भारत में यह दर दोनों देशों से अधिक करीब 4.24 फीसदी है। 
विशेषज्ञों का कहना कि आकड़े भारत के खिलाफ इसलिए भी जा रहे हैं, क्योंकि भारत में वैक्सीनेशन की रफ्तार और बाकी देशों की तुलना में काफी कम है। भारत को इस संबंध में अब कड़े कदम उठाने चाहिए। साथ ही टीकाकरण अभियान को भी तेजी से आगे बढ़ाना चाहिए। भारत में अब तक सिर्फ 4.57 फीसदी जनसंख्‍या का कोरोना टीकाकरण हो पाया है। जबकि ब्राजील में 7.57 फीसदी और अमेरिका में 30.44 फीसदी जनसंख्‍या को कोरोना वैक्‍सीन लगाई जा चुकी है। 
facebook twitter instagram