+

सेना के तीनों अंगो की संयुक्त थिएटर स्थापित करेगा भारत : राजनाथ

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सशस्त्र बलों के बीच समन्वय बढ़ाने के लिए सेना के तीनों अंगों की संयुक्त थिएटर कमान स्थापित करने की रविवार को घोषणा की।
सेना के तीनों अंगो की संयुक्त थिएटर स्थापित करेगा भारत : राजनाथ
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सशस्त्र बलों के बीच समन्वय बढ़ाने के लिए सेना के तीनों अंगों की संयुक्त थिएटर कमान स्थापित करने की रविवार को घोषणा की। सिहं ने कहा कि भारत रक्षा उपकरणों के मामले में दुनिया के सबसे बड़े आयातक से एक निर्यातक बनने की दिशा में तेजी से आगे बढ़ रहा है। उन्होंने यहां जम्मू कश्मीर पीपुल्स फोरम द्वारा भारतीय सशस्त्र बलों के शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए आयोजित एक कार्यक्रम में कहा,  (करगिल में ऑपरेशन विजय में संयुक्त अभियान के मद्देनजर) हमने (देश में) संयुक्त थिएटर कमान स्थापित करने का फैसला किया है।’’
समाज के लोगों का कर्तव्य वे शहीदों के परिवारों का सम्मान करें
करगिल शहीदों को श्रद्धांजलि देते हुए रक्षा मंत्री ने कहा कि देश की क्षेत्रीय अखंडता और संप्रभुता की रक्षा के लिए उनके सर्वोच्च बलिदान को देश नहीं भूल सकता। उन्होंने कहा, ‘‘समाज और लोगों का यह कर्तव्य है कि वे शहीदों और उनके परिवारों को पूरा सम्मान दें।’’ उन्होंने कहा, ‘‘आप जो भी सहायता प्रदान कर सकते हैं, उनके परिवारों के लिए करें। यह प्रत्येक नागरिक की जिम्मेदारी है।’’
आज भारत का रक्षा हथियारों का आयातक नहीं बल्कि निर्यातक में शामिल हैं  
रक्षा उत्पादन का जिक्र करते हुए सिंह ने कहा, ‘‘भारत (रक्षा उत्पादों का) दुनिया का सबसे बड़ा आयातक था। आज, भारत दुनिया का सबसे बड़ा आयातक नहीं है, बल्कि रक्षा निर्यात में शामिल शीर्ष 25 देशों में से एक है।’’ सिंह ने कहा कि देश ने 13,000 करोड़ रुपये का रक्षा निर्यात शुरू कर दिया है और 2025-26 तक इसे बढ़ाकर 35,000 रुपये से 40,000 करोड़ रुपये करने का लक्ष्य रखा गया है।

 
 
facebook twitter instagram