+

भारतीय गेंदबाज लगातार दूसरे वनडे मैच में ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों के सामने बेबस दिखे

आस्ट्रेलिया के बल्लेबाजी क्रम ने एक बार फिर भारत की लचर गेंदबाजी पर जमकर रन बटोरे और रविवार को सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर खेले जा रहे दूसरे वनडे मैच में 50 ओवरों में चार विकेट खोकर 389
भारतीय गेंदबाज लगातार दूसरे वनडे मैच में ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों के सामने बेबस दिखे
आस्ट्रेलिया के बल्लेबाजी क्रम ने एक बार फिर भारत की लचर गेंदबाजी पर जमकर रन बटोरे और रविवार को सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर खेले जा रहे दूसरे वनडे मैच में 50 ओवरों में चार विकेट खोकर 389 रनों का पहाड़ जैसा स्कोर खड़ा किया है। आस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों ने पहले मैच के फॉर्म को जारी रखा और भारतीय गेंदबाजों के चेहरों पर निराशा साफ नजर आई। पहले वनडे मैच में आस्ट्रेलिया ने 374 रन बनाए थे जो उसका वनडे में भारत के खिलाफ सर्वोच्च स्कोर था जिसे एक दिन बाद ही उसने पार कर लिया और नया स्कोर बनाया। 


आस्ट्रेलिया के शीर्ष पांच बल्लेबाजों ने 50 से ज्यादा रन बनाए। स्टीव स्मिथ ने शतक जमाया और बाकी चार ने अर्धशतक। डेविड वार्नर (83) और एरॉन फिंच की सलामी जोड़ी ने पहले विकेट के लिए 142 रनों का साझेदारी की। यह इस जोड़ी की भारत के खिलाफ लगातार दूसरी शतकीय साझेदारी है। इसी मैदान पर खेले गए पहले वनडे मैच में इन दोनों ने 156 रन जोड़े थे। 


वनडे में यह लगातार तीसरा मौका है जब भारत के खिलाफ पहले विकेट के लिए शतकीय साझेदारी की हो और यह एक रिकार्ड भी है। 978 वनडे मैचों के इतिहास में पहली बार हुआ है कि भारत के खिलाफ लगातार तीन बार वनडे में पहले विकेट के लिए शतकीय साझेदारी हुई हो। इन दो वनडे मैचों से पहले माउंट माउनगानुई में न्यूजीलैंड की मार्टिन गुप्टिल और हेनरी निकोलस की जोड़ी ने पहले विकेट के लिए 106 रन जोड़े थे। 


वार्नर और फिंच ने पहले मैच की तरह ही इस मैच में भी बड़ी आसानी से रन बनाए। मोहम्मद शमी ने फिंच को 142 के कुल स्कोर पर आउट कर भारत को पहली सफलता दिलाई। फिंच का कैच विराट कोहली ने पकड़ा। 156 के कुल स्कोर पर वार्नर को श्रेयस अय्यर ने रन आउट कर दिया। फिंच ने 69 गेंदों की पारी में छह चौके और एक छक्का मारा। वार्नर ने 77 गेंदें खेलीं जिसमें से सात पर चौके और तीन पर छक्के लगाए। 


इन दोनों के बाद भी भारत की मुसीबतें कम नहीं हुईं। पहले मैच के शतकवीर स्मिथ और युवा बल्लेबाज मार्नस लाबुशैन ने रनगति को लगातार तेजी दी। इन दोनों बल्लेबाजों ने तीसरे विकेट के लिए 132 रनों साझेदारी निभाई। स्मिथ ने एक और शतक पूरा किया। पहले मैच की तरह इस मैच में भी शतक पूरा करने के बाद स्मिथ ज्यादा देर टिक नहीं सके। लंबे अरसे बाद गेंदबाजी करने आए हार्दिक पांड्या की गेंद पर वह शमी को कैच दे बैठे। स्मिथ ने 64 गेंदों पर 104 रन बनाए। उन्होंने 14 चौके और दो छक्के मारे। स्मिथ का यह भारत के खिलाफ वनडे में लगातार तीसरा शतक है। 


इससे पहले उन्होंने भारत के खिलाफ इसी साल जनवरी में बेंगलुरू में 131, पिछले मैच में 105 और इस मैच में शतक जमाया। वह चौथे ऐसे बल्लेबाज हैं जिन्होंने वनडे में भारत के खिलाफ लगातार तीन शतक लगाए हों। स्मिथ से पहले पाकिस्तान के जहीर अब्बास, नासिर जमशेद और दक्षिण अफ्रीका के क्विटंन डी कॉक वनडे में भारत के खिलाफ लगातार तीन शतक जमा चुके हैं। 


लाबुशैन ने स्मिथ के जाने के बाद अपने पचास रन पूरे किए और भारतीय गेंदबाजों को पिटाई जारी रखी। जसप्रीत बुमराह ने लाबुशैन को मयंक अग्रवाल के हाथों कैच कराया। ग्लैन मैक्सवेल 29 गेंदों पर चार चौके और चार छक्कों की मदद से 63 रन बनाकर नाबाद लौटे। भारत के लिए बुमराह, शमी, पांड्या ने एक-एक विकेट लिया।
facebook twitter instagram