आईआरसीटीसी ने रेलगाड़ियों में खानपान सेवा मुहैया कराने वाले 47 निजी सेवा प्रदाताओं को नोटिस भेजा

भारतीय रेलवे खानपान निगम (आईआरसीटीसी) ने रेलगाड़ियों में खाना मुहैया कराने वाले 47 निजी सेवा प्रदाताओं को नोटिस जारी कर उन्हें खानपान सेवा की गुणवत्ता में सुधार करने का निर्देश दिया। 

आईआरसीटीसी ने शनिवार को एक बयान में यह जानकारी दी। यह कदम ट्रेन में खानपान सेवा में सुधार के लिए उठाया गया है। 

भारतीय रेल में कुल 358 कंपनियां खानपान सेवा मुहैया कराती हैं और इनमें से केवल 13 प्रतिशत कंपनियों को नोटिस भेजा गया है। प्रदर्शन के मानकों पर खरे नहीं उतरने पर आईआरसीटीसी पहले ही 24 ठेके रद्द कर चुका है। बाकी 23 ठेकेदारों की निगरानी की जा रही है जिसके आधार पर उनपर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी। 

बयान में आईआरसीटीसी ने कहा, “खराब प्रदर्शन करने वालों को कंपनियों को छोड़ा नहीं जाएगा और मानकों पर खरा नहीं उतरने पर उनके ठेके रद्द किए जाएंगे।” 

आईआरसीटीसी ने कैटरिंग सेवा पर निगरानी रखने के लिए और यात्रियों की शिकायत का उसी समय समाधान करने के लिए अधिकतर ट्रेनों में कैटरिंग सुपरवाइजर और सहायक नियुक्त किए हैं। 

कंपनी विभिन्न ट्रेनों में भोजन की सुरक्षा और साफ सफाई का ऑडिट भी करवा रही है। 
Tags : Narendra Modi,कांग्रेस,Congress,नरेंद्र मोदी,राहुल गांधी,Rahul Gandhi,punjabkesri ,IRCTC,service providers,Indian Railway Catering Corporation