+

जंग की और अग्रसर इजरायल-हमास, गाजा से दागे गए सिलसिलेवार रॉकेट तो इजराइली लड़ाकू विमानों ने किया हमला

हमास शासित क्षेत्रों से सिलसिलेवार दागे गए रॉकेट के जवाब में सोमवार को इजराइली लड़ाकू विमानों ने गाजा पट्टी पर कई ठिकानों पर हमला किया।
जंग की और अग्रसर इजरायल-हमास, गाजा से दागे गए सिलसिलेवार रॉकेट तो इजराइली लड़ाकू विमानों ने किया हमला
गाजा पट्टी से इजरायल की ओर एक रॉकेट दागा गया, हालांकि इसे विफल कर दिया गया। एक सैन्य प्रवक्ता ने यह जानकारी दी। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने प्रवक्ता के हवाले से कहा, रविवार शाम को गाजा पट्टी से इजरायली क्षेत्र में एक रॉकेट दागा गया। रॉकेट को आयरन डोम एयर डिफेंस सिस्टम ने इंटरसेप्ट किया। रॉकेट ने दक्षिणी शहर सेडरोट और तटीय फिलिस्तीनी एन्क्लेव के पास के क्षेत्र में सायरन बजा दिया।
किसी भी समूह ने तत्काल हमले की जिम्मेदारी नहीं ली। गाजा में आतंकवादियों ने 10-11 सितंबर को दक्षिणी इजराइल पर भी रॉकेट दागे, जबकि इजरायल ने हमास साइटों के खिलाफ रात में हवाई हमले किए , जिसके बाद इजरायल ने इसे जवाबी हमला करार दिया। रॉकेट हमले तब किए गए जब इजरायली सुरक्षा बलों ने सप्ताहांत में छह फिलिस्तीनी कैदियों में से चार को पकड़ लिया, जो उत्तरी इजरायल की जेल से भाग गए थे।
साथ ही रविवार को, संयुक्त राष्ट्र मध्य पूर्व के दूत ने एक बयान में कहा कि संगठन वित्तपोषित योजना के तहत गाजा में हजारों गरीब परिवारों को वित्तीय सहायता वितरित करना शुरू कर देगा। प्रधान मंत्री नफ्ताली बेनेट ने रविवार को घोषणा की कि एक संशोधित योजना के तहत, अधिकांश सहायता वाउचर में वितरित की जाएगी, न कि नकद में। बेनेट के अनुसार, नई योजना यह सुनिश्चित करेगी कि सहायता हमास को दरकिनार करते हुए जरूरतमंदों तक पहुंचे।
रॉकेट हमले के जवाब में इजराइल ने हमास के ठिकानों को बनाया निशाना
हमास शासित क्षेत्रों से सिलसिलेवार दागे गए रॉकेट के जवाब में सोमवार को इजराइली लड़ाकू विमानों ने गाजा पट्टी पर कई ठिकानों पर हमला किया। लगातार तीन रातों से यह लड़ाई जारी है। गत सप्ताह इजराइल की एक जेल से छह फलस्तीनी कैदियों के भागने के बाद से तनाव बढ़ गया है। पिछले महीने 11 दिन तक चले युद्ध के मद्देनजर मिस्र ने दीर्घकालिक शांति के लिए मध्यस्थता करने की पेशकश की थी।
इजराइली सेना के अनुसार, हमास ने रविवार और सोमवार को रॉकेट से तीन अलग-अलग हमले किये जिनमें से कम से कम दो को नाकाम कर दिया गया। सेना ने बताया कि इसके जवाब में इजराइल ने हमास के ठिकानों को अपना निशाना बनाया। दोनों पक्ष से किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है।
facebook twitter instagram