+

लॉकडाउन का असर, जालंधर की हवा इतनी हुई साफ कि हिमाचल के बर्फीले पहाड़ दिखने लगे

देश में लगातार कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या आए दिन बढ़ रही है। भारत के अलावा इस समय लॉकडाउन की स्थिति दुनिया के अधिकतर देशों में लगा हुआ है। सभी लोगों को  रहने की अपील कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने की लिए किया जा रहा है। 


दफ्तर, मॉल, स्‍कूल, यूनिवर्सिटी, धार्मिक संस्‍थान, पब्‍लिक ट्रांसपोर्ट को भी इसके चलते बंद कर दिया गया है इतना ही नहीं वर्क फ्रॉम होम भी इसके चलते दे दिया है ताकि लोग घर से बाहर न निकलें। जहां कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन है जिसके चलते जहरीली हवा अब साफ हो चुकी है।


हालांकि गाड़ियों की आवाजाही भी भारत में इस समय रुकी है। इसके साथ ही भारत में सभी फैक्ट्रियां बंद की गई हैं। भारत की राजधानी दिल्ली में खासतौर पर प्रदूषण इतना होता है जिसकी वजह से हवा खराब रहती है। पिछले हफ्ते AQI 95 से नीचे दिल्ली में दर्ज हुआ। दिल्ली के साथ-साथ मुंबई की हवा में भी प्रदूषण गिर गया है। 


हवा का स्तर पंजाब में भी साफ़ हो गया है साथ ही ग्रीन जोन  में राज्य के कई शहर आ गए हैं। दिलचस्प बात तो यह है कि ऐसा सालों बाद हुआ है। देश के सबसे प्रदूषित शहरों में लुधियाना का नाम आता है। भारत के सबसे साफ शहर की लिस्ट में इसका नाम आ गया है।
 
सफेद पर्वत के नाम से धौलाधार को बुलाते हैं। हिमाचल प्रदेश में स्थित यह पर्वतमाला है। पश्चिम में चम्बा जिले से शुरू होकर यह राज्य के पूर्व में किन्नौर जिले से जाते हुए उत्तराखंड से होते हुए पूर्वी असम तक फैली हुई है। दूर-दूर से पर्यटक धर्मशाला  इन पहाड़ों को देखने के लिए आते हैं। जालंधर के लोगों को उनके घरों से प्रदूषण कम होने के बाद यह पहाड़ दिखाई दे रहे हैं।

Tags : Chhattisgarh,Punjab Kesari,जगदलपुर,Jagdalpur,Sanctuaries,Indravati National Park ,lockdown,mountains,Jalandhar,Himachal,countries,world,India