+

जम्मू-कश्मीर के उप-राज्यपाल मनोज सिन्हा ने 'वाइज ऐप' के क्रिएटर्स की सराहना की

जम्मू एवं कश्मीर के उप-राज्यपाल मनोज सिन्हा ने शनिवार को मुबीन मसुदी और बिलाल आबिदी को 'वाइज ऐप' बनाने के लिए बधाई दी। यह ऐप 2जी सर्विसेज पर ऑनलाइन कक्षाओं की सुविधा प्रदान करता है।
जम्मू-कश्मीर के उप-राज्यपाल मनोज सिन्हा ने 'वाइज ऐप' के क्रिएटर्स की सराहना की
जम्मू एवं कश्मीर के उप-राज्यपाल मनोज सिन्हा ने शनिवार को मुबीन मसुदी और बिलाल आबिदी को 'वाइज ऐप' बनाने के लिए बधाई दी। यह ऐप 2जी सर्विसेज पर ऑनलाइन कक्षाओं की सुविधा प्रदान करता है। 
इन युवा डेवलपर्स को सिन्हा ने शनिवार को राजभवन में बुलाया। उप-राज्यपाल ने जम्मू एवं कश्मीर में ऑनलाइन शिक्षा के क्षेत्र में मील का पत्थर बनाने के लिए दोनों टेक्नोक्रेट के प्रयासों की सराहना की। इनमें से एक मसुदी कश्मीर से हैं, वहीं आबिदी लखनऊ से ताल्लुक रखते हैं। 
सिन्हा ने कहा कि 2जी फ्रेंडली वाइज ऐप ने हजारों शिक्षकों को परेशानी मुक्त ऑनलाइन कक्षाएं संचालित करने में सक्षम बनाया है और इससे असाइनमेंट भेजना और प्राप्त करना आसान हो गया है। उन्हें बताया गया कि पिछले कुछ दिनों में सैकड़ों शिक्षकों को ऐप को लेकर प्रशिक्षित किया गया है और वे जम्मू एवं कश्मीर में ऑनलाइन शिक्षा को सुचारू और सुलभ बनाने के लिए इस प्रक्रिया को जारी रखने का इरादा रखते हैं।
 दोनों आईआईटी के छात्र हैं। उनके काम की सराहना करते हुए सिन्हा ने कहा कि हमारे समाज के विकास के लिए इस तरह की पहल बहुत मायने रखती हैं। पिछले साल 5 अगस्त को अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद जम्मू एवं कश्मीर में इंटरनेट सेवा निलंबित कर दी गई थी। हालांकि, बाद में कम गति वाली 2जी इंटरनेट सेवा को चरणबद्ध तरीके से पूरे केंद्रशासित प्रदेश में बहाल कर दिया गया, लेकिन हाईस्पीड वाली इंटरनेट सेवा निलंबित है। हालांकि, अगस्त में जम्मू एवं कश्मीर के दो जिलों, कश्मीर घाटी में गांदरबल और जम्मू में उधमपुर में हाईस्पीड इंटरनेट को ट्रायल के आधार पर बहाल किया गया था। 


J&K : पाकिस्तानी सैनिकों ने फिर किया संघर्षविराम का उल्लंघन, भारतीय जवानों ने दिया मुहतोड़ जवाब


facebook twitter