+

झारखंड : कोरोना संकट के काल में अब तक छह लाख 89 हजार से अधिक प्रवासी लौटे अपने घर

संवाददाता सम्मेलन में आपदा प्रबंधन विभाग के सचिव अमिताभ कौशल ने कहा कि अभी तक झारखण्ड वापस आए 6 लाख 89 हजार से अधिक लोगों में से राज्य सरकार के द्वारा 4 लाख 12 हजार 357 लोगों को लाया गया है
झारखंड : कोरोना संकट के काल में अब तक छह लाख 89 हजार से अधिक प्रवासी लौटे अपने घर
झारखंड अब तक छह लाख 89 हजार से अधिक लोग राज्य के बाहर से लौट चुके हैं जिनमें से पांच लाख 11 हजार 663 लोगों को प्रवासी मजदूर के रूप में चिह्नित किया गया है। झारखंड के कोरोना संबंधित मामलों के मुख्य नोडल पदाधिकारी अमरेंद्र प्रताप सिंह ने आज प्रोजेक्ट भवन में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि अबतक 6 लाख 89 हजार से अधिक लोग राज्य के बाहर से झारखण्ड आ चुके है। वापस लौटे प्रवासियों में से 5 लाख 11 हजार 663 लोगों को प्रवासी मजदूर के रूप में चिन्हित किया गया है।

सिंह ने बताया कि वंदे भारत मिशन के तहत अब तक 390 लोग विदेशों से झारखण्ड वापस आ चुके हैं जिनमें से 234 लोगों ने अपना पृथक-वास पूरा कर लिया है। इनमें 21 लोग कोरोना पॉजिटिव पाये गये हैं। उन्होंने कहा कि विदेशों से आने वालों में बांग्लादेश से आने वाले प्रवासियों की संख्या सर्वाधिक है। उन्होंने बताया कि आगामी 17 जून को बांग्लादेश से 76 लोगों को हवाई मार्ग से झारखण्ड लाया जायेगा। साथ ही भूटान से भी 17 लोगों को सड़क मार्ग द्वारा वापस लाया जा रहा है।

संवाददाता सम्मेलन में आपदा प्रबंधन विभाग के सचिव अमिताभ कौशल ने कहा कि अभी तक झारखण्ड वापस आए 6 लाख 89 हजार से अधिक लोगों में से राज्य सरकार के द्वारा 4 लाख 12 हजार 357 लोगों को लाया गया है जिनमें से 3 लाख 10 हजार 340 लोगों को 238 स्पेशल श्रमिक ट्रेनों के माध्यम से लाया गया है ,वहीं 1 लाख 8 सौ 52 लोगों को बस तथा 1165 लोगों को हवाई मार्ग से वापस लाया जा चुका है।

अमिताभ ने बताया कि सरकार की ओर से अब तक कुल 3566 क्वारंटीन सेंटर बनाये गये हैं, जिनमें 25 हजार 170 लोगों को क्वारंटीन किया गया है। इसके अलावा 2 लाख 49 हजार 583 लोगों को होम क्वारंटीन किया गया है।

facebook twitter