+

जींद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने भ्रूण लिंग परीक्षण करने वाले रैकेट का किया भंडाफोड़

जींद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने छापेमारी कर भ्रूण लिंग परीक्षण करने वाले दो लोगों को गिरफ्तार किया है जबकि दो फरार हैं।
जींद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने भ्रूण लिंग परीक्षण करने वाले रैकेट का किया भंडाफोड़
हरियाणा में भ्रूण लिंग परीक्षण (Sex Determination Test) करने वाले एक रैकेट भंडाफोड़ हुआ है। जींद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने छापेमारी कर भ्रूण लिंग परीक्षण करने वाले दो लोगों को गिरफ्तार किया है जबकि दो फरार हैं। स्वास्थ्य टीम ने आरोपियों के पास से एक पोर्टेबल अल्ट्रासाउंड मशीन भी बरामद की है। 
पुलिस ने गुरुवार को बताया कि स्वास्थ्य विभाग की टीम ने एक गुप्त सूचना मिली थी। नोडल अधिकारी डॉ़ प्रभु दयाल को जिम्मेवारी सौंपी गई जिन्होंने एक गर्भवती महिला को टीम में शामिल किया और फर्जी ग्राहक बनकर आरोपी विनोद से संपर्क किया। पुलिस के अनुसार विनोद ने 50 हजार रुपये मांगे। 
बाद में सबकुछ तय होने के बाद विनोद गर्भवती महिला को असंध ले गया। वहां से दूसरा एक व्यक्ति रत्तक रोड पर एक मकान में ले गया जहां महिला के गर्भ में भ्रूण का लिंग परीक्षण किया गया। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने मकान पर छापेमारी कर मशीन बरामद की और मकान मालिक कृष्ण को हिरासत में लिया। आरोपी विनोद वहां से जा चुका था लेकिन उसे भी बाद में काबू किया गया। 
पुलिस के अनुसार आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि मशीन से जांच करने वाला संजय (फफड़ना निवासी) था। महिला को असंध में उस मकान तक पहुंचाने वाला व्यक्ति असंध निवासी अमरदीप था जो निजी अस्पताल का एंबुलेंस चालक है। पुलिस ने डॉ़ प्रभु दयाल की शिकायत पर विनोद, कृष्ण, संजय तथा अमरदीप के खिलाफ पीएनडीटी एक्ट समेत विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है।
facebook twitter