+

राहुल की नाराजगी से नहीं पड़ा फर्क, कमलनाथ ने माफी मांगने से किया इंकार

कमलनाथ ने कहा, मैंने तो साफ कर दिया मैंने किस संदर्भ में कहा था, इसमें और कहने की आवश्यकता नहीं है। मैं क्यों माफी मांगूंगा, मेरा लक्ष्य नहीं था किसी को अपमानित करना।
राहुल की नाराजगी से नहीं पड़ा फर्क, कमलनाथ ने माफी मांगने से किया इंकार
कांग्रेस पार्टी के नेता और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा आपत्तिजनक टिप्पणी पर नाराजगी जताए जाने के बाद भी कमलनाथ ने माफी मांगने से साफ इंकार कर दिया है। राहुल ने कमलनाथ के बयान को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा कि उन्हें इस तरह की भाषा पंसद नहीं हैं। 
राहुल की टिप्पणी पर कमलनाथ ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा, अब वह राहुल जी की राय है, उनको जो समझाया गया कि किस संदर्भ में मैंने ये कहा था। मैंने तो साफ कर दिया मैंने किस संदर्भ में कहा था, इसमें और कहने की आवश्यकता नहीं है। मैं क्यों माफी मांगूंगा, मेरा लक्ष्य नहीं था किसी को अपमानित करना। यदि कोई अपमानित अहसास करता है तो मुझे खेद है, यह तो कल मैंने कह दिया था.... शिवराज जी जनता के बीच जाएं और माफी मांगें। मैंने तो खेद व्यक्त कर दिया है।
मध्य प्रदेश की कैबिनेट मंत्री इमरती देवी को 'आइटम' बताने वाले कमलनाथ के बयान पर राहुल ने कहा, कमलनाथ जी मेरी पार्टी के हैं, लेकिन व्यक्तिगत रूप से मुझे उस प्रकार की भाषा पसंद नहीं है जिसका उन्होंने इस्तेमाल किया। मैं इसका समर्थन नहीं करता, चाहे वह कोई भी हो। यह दुर्भाग्यपूर्ण है।
उन्होंने कहा, जिस तरह से हम महिलाओं के साथ व्यवहार करते हैं, उसे सुधारने की जरूरत है। हमारी महिलाएं हमारी शान हैं। हालांकि इस दौरान राहुल ने स्पष्ट नहीं किया कि इस संबंध में पार्टी कमलनाथ के खिलाफ कोई कार्रवाई करेगी या नहीं। अपने बयान को लेकर कमलनाथ कड़ी निंदा का शिकार हुए।
दरअसल, कमलनाथ ने रविवार ग्वालियर जिले के डबरा में आयोजित चुनावी सभा में बीजेपी प्रत्याशी इमरती देवी को आइटम कहा है। उनके इस बयान पर प्रदेश बीजेपी के अलावा केंद्रीय मंत्रियों ने भी कड़ी निंदा की थी। हालांकि कमलनाथ ने अपनी सफाई में दावा करते हुए कहा कि आइटम कोई असम्मानजनक शब्द नहीं है। 


facebook twitter instagram