+

सलमान रुश्दी पर हुये जानलेवा हमले की कंगना रनौत और शबाना आजमी ने की निंदा, हमलावर को बताया

मशहूर लेखक सलमान रुश्दी पर शुक्रवार को न्यूयॉर्क में जानलेवा हमला किया गया। हमले के बाद सलमान की हालत काफी गंभीर है। पूरी दुनिया सहित इस बर्बर हमले की बॉलीवुड सिलेब्रिटीज ने भी कड़ी निंदा की है।
सलमान रुश्दी पर हुये जानलेवा हमले की कंगना रनौत और शबाना आजमी ने की निंदा, हमलावर को बताया

भारतीय मूल के ब्रिटिश-अमेरिकन लेखक सलमान रुश्दी पर न्यूयॉर्क में जानलेवा हमला कर दिया गया। इस हमले के बाद उन्हें हेलीकॉप्टर से हॉस्पिटल ले जाया गया जहां उनकी हालत काफी गंभीर है। सलमान के एजेंट एंड्यू विली ने बताया है कि इस हमले में उनकी एक आंख जा सकती है, उनके हाथ में काफी चोटें आई हैं और हमले में उनका लिवर भी डैमेज हो गया है। सलमान पर हुए इस बर्बर हमले की  बॉलीवुड सहित दुनियाभर के लोगों ने आलोचना की है।

लेखक सलमान रुश्दी पर न्यू यॉर्क में जानलेवा हमला, चाकुओं से गोदकर किया घायल  - Author Salman Rushdie is stabbed ahead of speech in New York - AajTak

दरअसल, लेखक सलमान रुश्दी पर एक लाइव प्रोग्राम के दौरान अटैक हुआ था। आरोपी सलमान के गले पर चाकू से 10-15 बार हमला किया। लेखक पर हुए जानलेवा हमले से हर कोई परेशान हो गया है। सलमान रुश्दी पर हमले के खिलाफ सोशल मीडिया पर कई बॉलीवुड सिलेब्रिटीज का भी रिऐक्शन सामने आया है।

हमेशा अपने बयानों से विवादों में घिरी रहने वाली बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत ने भी सलमान रुश्दी पर हुए हमले की निंदा की है। उन्होंने अपनी इंस्टा स्टोरी पर फोटो शेयर करते हुए लिखा, 'एक और दिन और जिहादियों का एक और घिनौना काम। द सैटनिक वर्सेज अपने समय की सबसे बेहतरीन किताबों में से एक है। मैं भीतर तक इतना हिल गई हूं कि कुछ कह नहीं सकती। बेहद घिनौना काम।'

कंगना के अलावा दिग्गज अभिनेत्री और फेमस गीतकार जावेद अख्तर की वाइफ शबाना आजमी ने भी इस हमले की निंदा करते हुए लिखा, सलमान रुश्दी पर कायराना हमला निंदनीय है। मुझे उम्मीद है कि वह जल्द ठीक होंगे और कट्टरपंथी हत्यारे को सख्त से सख्त सजा दी जाएगी।


इस बीच हमले के बाद न्यू यॉर्क पुलिस ने बताया है कि लेखक पर हमला करने वाले का नाम हादी मतार है जो महज 24 साल का है और न्यू जर्सी का रहने वाला है। अभी तक उसके हमला करने का कारण पता नहीं चला है और उसे हिरासत में ले लिया गया है।

Don't Want to Live Hidden Away', Says Salman Rushdie After Spending Decades  in Shadow of Death Sentence

बता दें कि सलमान रुश्दी की साल 1988 में आई किताब 'द सैटनिक वर्सेज' के रिलीज होने के बाद उनके खिलाफ ईरान के सुप्रीम लीडर अयातुल्लाह खुमैनी सहित कई इस्लामिक संगठनों ने फतवा जारी कर दिया था। कुछ मुस्लिम संगठन इस नॉवल को पैगंबर मोहम्मद का अपमान भी बताते हैं।

बॉलीवुड केसरी :
facebook twitter instagram