AES पीड़ित बच्चों से अस्पताल मिलने पहुंचे कन्हैया कुमार, भारी विरोध का करना पड़ा सामना

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) के नेता कन्हैया कुमार आज अपने समर्थकों के साथ श्रीकृष्ण मेडिकल कॉलेज अस्पताल (एसकेएमसीएच) में एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) से पीड़ित बच्चों और परिजनों से मिलने पहुंचे, जहां उन्हें भारी विरोध का सामना करना पड़ा। 

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के छात्र नेता से चर्चा में आए कन्हैया कुमार के बड़ी संख्या में अपने समर्थकों के साथ एसकेएमसीएच अस्पताल पहुंचने पर सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें अंदर जाने की अनुमति नहीं दी। इसके बाद उनके साथ आये समर्थक सुरक्षा गार्डों से उलझ गए। उस समय वहां मौजूद लोगों ने उनका जमकर विरोध किया। 


अस्पताल के बाहर मौजूद लोगों ने कहा कि यदि कन्हैया कुमार को मासूम बच्चों की मौत पर दर्द है, तो वे अकेले या दो-चार लोगों के साथ आते। भाकपा के झंडे-बैनर के साथ सैंकड़ो समर्थकों को लेकर कन्हैया कुमार अस्पताल में क्या रैली करने आये हैं।

 इस पर कन्हैया कुमार ने कहा कि अभी प्रार्थना का वक्त है। ऐसे गंभीर मामले पर वह कोई राजनीति नहीं करना चाहते हैं। वह पीड़ित और उनके परिजनों से मिलने आए हैं। बाद में कन्हैया कुमार को दो-तीन समर्थकों के साथ अस्पताल के अंदर जाने की अनुमति मिल गई। गौरतलब है कि अस्पताल प्रशासन ने राजनीतिक दलों के नेताओं से अस्पताल नहीं आने का आग्रह करते हुए कहा था कि बेहतर होता कि वे एईएस से प्रभावित गांव में जाते और लोगों को बीमारी के संबंध में जागरूक करते।
Download our app