+

उदयपुर हत्याकांड को लेकर एक्शन में गहलोत सरकार, देर रात हटाए गए SP और IG

उदयपुर में टेलर कन्हैया लाल की हत्या के बाद चौतरफा निंदा के बाद एक्शन में आई राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार ने देर रात उदयपुर के एसपी और आईजी को हटा दिया।
उदयपुर हत्याकांड को लेकर एक्शन में गहलोत सरकार, देर रात हटाए गए SP और IG
उदयपुर में टेलर कन्हैया लाल की हत्या के बाद चौतरफा निंदा के बाद राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार एक्शन में आ गई है। सरकार ने देर रात उदयपुर के एसपी और आईजी को हटा दिया। वहीं हत्या के दोनों आरोपी गौस मोहम्मद और रियाज को अजमेर जेल शिफ्ट कर दिया गया है।
राजस्थान सरकार ने उदयपुर के एसपी मनोज कुमार और आईजी हिंगलाज दान का तबादला कर दिया है। इसके बाद उदयपुर के नए आईजी प्रफुल्ल कुमार और एसपी विकास शर्मा होंगे। वहीं जोधपुर कमिश्नर नवज्योति गोगोई को भी हटा दिया गया है। उन्हें पुलिस अकादमी जयपुर में जिम्मेदारी सौंपी गई है।
क्यों नहीं दी गयी कन्हैया को सुरक्षा?
कन्हैया लाल की हत्या के मामले में पुलिस लापरवाही के आरोपों का सामना कर रही है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मृतक कन्हैयालाल का पत्र पढ़ते हुए आईजी हिंगलाजदान व एसपी मनोज कुमार से पूछा कि जब कन्हैया सुरक्षा की गुहार लगा रहा था तो आपने उसे सुरक्षा क्यों नहीं दी?
लगातार मिल रही थीं धमकियां
कन्हैया लाल ने पत्र लिखकर पुलिस को शिकायत दी थी कि उन्हें लगातार जान से मारने की धमकी मिल रही हैं।इतना ही नहीं उन्होंने पुलिस से सुरक्षा की  मांग भी की थी। लेकिन पुलिस ने सुरक्षा देने के बजाय दोनों पक्षों में समझौता करा दिया। कन्हैया लाल के बेटों ने भी आरोप लगाया था कि पुलिस ने अगर समय रहते सख्त कार्रवाई की होती, तो उनके पिता जिंदा होते।
अजमेर जेल में शिफ्ट किए गए आरोपी
कन्हैयालाल हत्याकांड के आरोपियों को अजमेर जेल में शिफ्ट कर दिया गया है। दोनों आरोपी रियाज और गौस मोहम्मद को हाई सिक्युरिटी जेल में रखा गया है। दोनों को अलग-अलग बैरक में रखा गया है। पुलिस को ऐसा इनपुट मिला था कि दोनों आरोपियों के जान को खतरा है।
facebook twitter instagram