+

कन्हैयालाल हत्याकांड : 19 दिनों बाद उदयपुर को कर्फ्यू से मिली निजात, फिर लौटेगी पर्यटकों की बहार

28 जून को दर्जी कन्हैयालाल की गला काटकर निर्मम हत्या की गई थी। तभी से उदयपुर में कर्फ्यू लगा दिया गया था, जिसे अब पूरी तरह से हटा दिया गया है।
कन्हैयालाल हत्याकांड : 19 दिनों बाद उदयपुर को कर्फ्यू से मिली निजात, फिर लौटेगी पर्यटकों की बहार
राजस्थान के उदयपुर में टेलर कन्हैयालाल की हत्या के लगभग तीन सप्ताह बाद रविवार को शहर से कर्फ्यू हटा लिया गया। प्रशासन के इस फैसले के बाद उदयपुर में एक बार फिर पर्यटकों का आना शुरू हो जाएगा। 28 जून को दर्जी कन्हैयालाल की गला काटकर निर्मम हत्या की गई थी। तभी से शहरभर में कर्फ्यू लगा दिया गया था, जिसे अब पूरी तरह से हटा दिया गया है।
दरअसल, 28 जून को टेलर कन्हैयालाल की दो लोगों ने गला काटकर हत्या कर दी थी। इस घटना के बाद पूरे शहर में तनाव पैदा हो गया था, जिसके बाद शहर में फर्फ्यू लगा दिया गया था। इस घटना के बाद 19 दिनों तक लेक सिटी के नौ थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लागू रहा, जिससे पर्यटन भी काफी प्रभावित हुआ। शहर की होटल बुकिंग कैंसल की गई और पर्यटकों की संख्या में भी भारी गिरावट देखी गई।
जुलाई में शुरू होता है पर्यटन सीजन
बता दें कि उदयपुर में हर साल जुलाई में पर्यटन सीजन की शुरुआत हो जाती है क्योंकि जून के आखिरी हफ्ते पर्यटक आना शुरू कर देते हैं। इस बार 28 जून के हत्याकांड की वजह से पर्यटकों ने अपनी बुकिंग कैंसल करवा दी थी। घटना के बाद लगे कर्फ्यू के बाद जुलाई के दो वीकेंड पर पर्यटन स्थालों पर सन्नाटा पसरा रहा। लेकिन अब पर्यटकों द्वारा लेक सिटी की ओर रुख करने की संभावना।

कन्हैयालाल हत्याकांड: NIA की रिमांड खत्म, कोर्ट ने तीन आरोपियों को न्यायिक हिरासत में भेजा


facebook twitter instagram