+

दिल्ली सरकार द्वारा बढ़ाये गए एक हफ्ते के लॉकडाउन का कैट ने किया स्वागत

दिल्ली में बढ़ते कोरोना मामलों को देखते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री ने राजधानी में लॉकडाउन की अवधि एक हफ्ता और बढ़ा दी है। अगले सोमवार 17 मई सुबह 5 बजे तक के लिए ही लॉकडाउन रहेगा।
दिल्ली सरकार द्वारा बढ़ाये गए एक हफ्ते के लॉकडाउन का कैट ने किया स्वागत
दिल्ली में बढ़ते कोरोना मामलों को देखते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री ने राजधानी में लॉकडाउन की अवधि एक हफ्ता और बढ़ा दी है। अगले सोमवार 17 मई सुबह 5 बजे तक के लिए ही लॉकडाउन रहेगा। कॉन्फेडरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने इस फैसले का स्वागत किया है।
कैट ने 6 मई, को दिल्ली के प्रमुख व्यापारिक संगठनों से परामर्श करने के बाद दिल्ली में लॉकडाउन आगे बढ़ाने की मांग की थी। दिल्ली में इस बार लॉकडाउन और अधिक सख्ती से लागू किया जाएगा।दिल्ली में अब लॉकडाउन के दौरान मेट्रो चलना भी बंद हो जाएगी।
इस मसले पर कैट ने कहा कि, वर्तमान में दिल्ली में जिस तरह से लॉक डाउन किया जा रहा है वो काफी चिंताजनक है। दिल्ली में बिना किसी चेकिंग के लोगों की सड़कों पर आवाजाही पूर्व की तरह जारी है। किसी भी लॉक डाउन में न केवल दुकानों बल्कि आवश्यक वस्तुओं को छोड़कर अन्य सभी प्रकार की गतिविधियों को बंद रखा जाना जरूरी है। दिल्ली की सभी सीमाओं पर दिल्ली में प्रवेश करने वाले प्रत्येक व्यक्ति या वाहन को सख्त जाँच के बाद ही दिल्ली में प्रवेश देना चाहिए। हवाई अड्डों, रेलवे स्टेशनों और अंतरराज्यीय बस स्टेंड्स पर सख्त सतर्कता की आवश्यकता है।
दिल्ली में कोविड की श्रृंखला को तोड़ने के लिए जब तक इन कदमों को प्रभावी तरीके से नहीं उठाया जाएगा तब तक कोरोना श्रंखला को तोडना मुश्किल है।कैट ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मांग रखते हुए कहा है कि, जिस तरह उन्होंने अन्य क्षेत्रों के लिए वित्तीय एवं अन्य सहायताओं की घोषणा की है उसी प्रकार दिल्ली के व्यापारियों को भी वित्तीय सहायता दिया जाना बेहद जरूरी है।
दिल्ली में पिछले तीन हफ्ते से दुकानें और बाजार बंद हैं और व्यापारियों को पैसे की कोई आमदनी नहीं है जबकि परिवार की आवश्यकताओं और व्यापार में कर्मचारियों के वेतन, बिजली के बिल, पानी के बिल, संपत्ति कर, ईएमआई के भुगतान, ऋणों पर ब्याज आदि के रूप में व्यापारियों द्वारा धन का खर्चा लगातार जारी है।


facebook twitter instagram