+

केरल के मुख्यमंत्री ने केंद्र पर साधा निशाना, कहा- किसानों के वजह रखा जा रहा है उद्योगपतियों के हितों का ध्यान

केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने बुधवार को केंद्र सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि उद्योगपतियों के हितों का ध्यान रखा जा रहा है, लेकिन किसानों का नहीं।
केरल के मुख्यमंत्री ने केंद्र पर साधा निशाना, कहा- किसानों के वजह रखा जा रहा है उद्योगपतियों के हितों का ध्यान
केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने बुधवार को केंद्र सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि उद्योगपतियों के हितों का ध्यान रखा जा रहा है, लेकिन किसानों का नहीं। विजयन ने कहा कि केंद्र सरकार को तीनों कृषि कानून वापस लेने चाहिए, जिनके विरोध में दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन हो रहा है।
उन्होंने कहा कि वर्तमान में जो किसान आंदोलन चल रहा है, ऐसा देश में पहले कभी नहीं हुआ। विजयन ने कहा कि किसान देश के अन्नदाता हैं, इसलिए उनकी मांग को राष्ट्र के हित में देखा जाना चाहिए।
शहीद स्मारक पर यहां स्थित किसानों के प्रति एकजुटता दिखाने के लिए वामदलों के समर्थन से आयोजित एक बैठक का उद्घाटन करते हुए उन्होंने केंद्र सरकार पर रय्यत के खिलाफ लगातार दमनकारी कदम उठाने का भी आरोप लगाया। मुख्यमंत्री ने कहा, “केंद्र की भाजपा सरकार किसानों के हितों का ध्यान नहीं रख रही है।
वह उद्योगपतियों के हितों को सबसे ज्यादा महत्व दे रही है। केंद्र को किसानों की मांग स्वीकार कर लेनी चाहिए।” उन्होंने कहा कि अगर देश में खाने की चीजों की कमी होती है तो इससे केरल समेत सभी राज्य प्रभावित होंगे इसलिए किसान आंदोलन को किसी एक राज्य तक सीमित कर के नहीं देखना चाहिए।

किसान दिवस पर अन्नदाताओं ने मोदी सरकार से मांगा गिफ्ट, कहा- आज का किसान पढ़ा लिखा

facebook twitter instagram