+

फिर उबाल मार रहा हैं खालिस्तान मूवमेंट, बठिंडा में दीवार पर लिखे गए खालिस्तान समर्थक नारे

बठिंडा में सरकारी कार्यालय की दीवार पर खालिस्तान समर्थक नारे लिखे पाए गए बठिंडा में संभागीय वन अधिकारी के कार्यालय की दीवार पर रविवार को खालिस्तान समर्थक और भारत विरोधी नारे लिखे पाए गए। अधिकारियों ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है।
फिर उबाल मार रहा हैं खालिस्तान मूवमेंट, बठिंडा में दीवार पर लिखे गए खालिस्तान समर्थक नारे
बठिंडा में सरकारी कार्यालय की दीवार पर खालिस्तान समर्थक नारे लिखे पाए गए बठिंडा में संभागीय वन अधिकारी के कार्यालय की दीवार पर रविवार को खालिस्तान समर्थक और भारत विरोधी नारे लिखे पाए गए। अधिकारियों ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है। मामला प्रशासन के संज्ञान में आने के बाद दीवार पर लिखे नारों को मिटा दिया गया। बठिंडा के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जयबालन ई. ने कहा कि मामले की जांच शुरू की गई है और इसके निष्कर्षों के आधार पर कार्रवाई की जाएगी। हाल में फरीदकोट और पंजाब के अन्य स्थानों में भी इसी तरह के नारे दीवारों पर लिखे पाये गए थे।
 आपको बता दे की आप सरकार आने के बाद से पंजाब खालिस्तानियों की गतिविधि बढ़ गई हैं । एक साल में कई हमलों को खालिस्तानियों ने अंजाम दे दिया हैं , लेकिन सरकार नींद से जाग नहीं पा रही हैं। इससे पहले अमृतसर में खालिस्तानियों ने आतंकी भिंडरावाले के समर्थन में रैली भी निकाली थी, जिस रैली को सुरक्षा खुद पंजाब पुलिस दे रही थी, इससे अलग भी कई घटनाओं में खालिस्तान समर्थक देशविरोधी लोगों का नाम आ चुका हैं । पंजाब में खालिस्तान समर्थक लोग नशे का कारोबार कर धन जुटाते हैं, जिस धन का इस्तेमाल आंतकी घटनाओं में किया जाता हैं । पाकिस्तान भी पंजाब को सुलगाने में लगा हुआ हैं , पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई खालिस्तान मूवमेंट को बढ़ावा देने के लिए पंजाब में आतंकियों को धन अर्जित करा रही हैं । पंजाब के कई जिले पूर्व में खालिस्तान की जद में हुआ करते थे, लेकिन 2014 के बाद से आतंकियों की धन व बल की कमर टूट गई। संगरूर में आम आदमी पार्टी को मात देकर संसद सदस्य बनने वाले सांसद सिमरनजीत सिंह खालिस्तान मूवमेंट को चलाने के लिए एक्टिव दिखाई पड़ रहे हैं । जीत के बाद से ही सिमरनजीत सिंह खालिस्तान के समर्थन में देशविरोधी बयान दे चुके हैं ।

facebook twitter instagram