+

कोविड-19 से निपटने के लिए बुनियादी ढ़ाचे की कमी, आप सरकार पूरी तरह असफल रही: दिल्ली HC

दिल्ली उच्च न्यायालय से कोविड-19 से पीड़ित वकीलों के लिए चिकित्सा सुविधा मुहैया कराने की मांग की, जिस पर दिल्ली उच्च न्यायालय ने कहा कि राज्य पूरी तरह विफल हो गया है।
कोविड-19 से निपटने के लिए बुनियादी ढ़ाचे की कमी, आप सरकार पूरी तरह असफल रही: दिल्ली HC
बार काउंसिल ऑफ दिल्ली के अध्यक्ष रमेश गुप्ता सहित वकीलों के एक समूह ने शुक्रवार को उच्च न्यायालय से कोविड-19 से पीड़ित वकीलों के लिए चिकित्सा सुविधा मुहैया कराने की मांग की, जिस पर दिल्ली उच्च न्यायालय ने कहा कि राज्य पूरी तरह विफल हो गया है। 
सुनवाई के दौरान वकील रो पड़े, जिसमें वरिष्ठ वकील गुप्ता भी शामिल थे। उन्होंने न्यायाधीशों से अपील की कि उनकी मदद करें, क्योंकि उन्हें चिकित्सा सुविधा नहीं मिल पा रही है। न्यायमूर्ति विपिन सांघी और न्यायमूर्ति रेखा पल्ली की पीठ ने कहा कि वे वकीलों के दर्द को समझ रहे हैं और स्थिति को राज्य की विफलता करार दिया। 
पीठ ने कहा, ‘‘हम आपके दर्द को समझते हैं। हम भी इससे गुजर रहे हैं। कोविड में बेतरतीब इजाफा हुआ है...किसी ने नहीं सोचा था कि यह इस तरीके से हम पर हमला करेगा... यहां धन का मुद्दा नहीं है। समस्या बुनियादी ढांचे की है।’’ 
इसने कहा, ‘‘समस्या है कि हमारे पास डॉक्टर, नर्स, ऑक्सीजन और दवाएं नहीं हैं। यह पूरी तरह से राज्य की विफलता है। यह हमारे लिए कठिन होता जा रहा है।’’ अदालत वकीलों के लिए चिकित्सा सुविधा की व्यवस्था करने से जुड़ी याचिका पर सुनवाई कर रही थी। 

facebook twitter instagram