लालू प्रसाद के बेटों ने उनके राजनीतिक विरासत को बर्बाद किया : पप्पू यादव

पटना : जाप-लो. के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने कहा कि राज् यसरकार बिहार प्रदेश को भगवान भरोसे छोड़ रखा है।  लॉ इन ऑर्डर समाप्त है। जाप छात्र परिषद प्रदेश में शिक्षा, स्वास्थ्य समेत अन्य छह मुद्दों को लेकर 16 जुलाई को विधानसभा का घेराव करेगा। होटल अतिथि में पत्रकारों से वार्तालाप कर राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव ने कहा कि मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार से हुई बच्चों की मौत पर राज्य सरकार अपनी जिम्मेदारी से भाग रही है। 

एक तरफ प्रदेश की सरकार स्वास्थ्य पर 9 हजा करोड़ का प्रावधान होने की बात करती है तो दूसरी ओर सुप्रीम कोर्ट में स्वीकार किया है कि िबहार में 47 प्रतिशत डॉक्टर, 71 प्रतिशत नर्स एवं जन सुविधा की कमी है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि वर्ष 2013-14 में प्रदेश के स्वास्थ्य पर राज्य सरकार ने हमारी बात नहीं मानी।

उन्होंने कहा कि मुजफ्फरपुर के चमकी बुखर पर एम्स रिपोर्ट के अनुसार कुपोषण एवं सुविधा के अभाव में इतनी बड़ी संख्या में बच्चों की मौत हुई है। बिहार में लॉ इन ऑर्डर समाप्त है। शाहपुर कस्तूरबा बालिका हॉस्टल में हुए दुष्कर्म की घटना को दबाया जा रहा है। 15 साल जंगल राज तो 15 साल माफिया राज से बिहार की जनता त्रस्त रही।

 उन्होंने राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद का जिक्र कर कहा कि लालू प्रसाद पारिवारिक तनाव में जी रहे हैं। उनके दोनों बेटों ने राजनीतिक विरासत को बर्बाद करने का काम किया है। लोकसभा चुनाव में दोनों ने अनुशासनहीनता का परिचय देकर गठबंधन को हराने का काम किया। उन्हें लोकसभा कीतरह 2020 में होने वाला विधानसभा के चुनाव को लेकर डर सता रहा है। वे नो इंट्री एवं पलटू चाचा के तरफ से आने वाला प्रपोजल का इंतजार कर रहे हैं। आज भी लालू प्रसाद के विचारों के साथ जाप एवं पप्पू यादव खड़ा है।
Download our app