शहीद जवान हरीशचंद्र पाल को राजकीय सम्मान के साथ दी अंतिम विदाई

छत्तीसगढ़ के धमतरी जिले में हुए नक्सली हमले में एक दिन पहले शहीद हुए भोपाल के सीआरपीएफ जवान हरीशचंद्र पाल (45) को शनिवार को यहां सुभाष नगर विश्रामघाट पर राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई। शहीद की 12 साल की बेटी श्लेशा उर्फ मिष्ठी ने देश के लिए कुर्बान होने वाले पिता को मुखाग्नि दी। इस दौरान सीआरपीएफ एवं मध्य प्रदेश पुलिस के कई आला अधिकारियों सहित हजारों लोग मौजूद थे।

 इससे पहले उनके शव को ट्रेन से यहां हबीबगंज रेलवे स्टेशन लाया गया, जहां पर मध्य प्रदेश के विधि एवं विधायी कार्य मंत्री पी सी शर्मा ने उनके पार्थिव शरीर पर पुष्प चक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। इसके बाद फूलों से सुसज्जित वाहन पर शहीद जवान के पार्थिव शरीर को उनके अवधपुरी इलाके स्थित निवास पर ले जाया गया।

 शहीद के अंतिम दर्शन के लिए हजारों की संख्या में उमड़े लोग देशभक्ति के नारों के साथ-साथ ‘हरीशचंद्र अमर रहे’ के नारे लगा रहे थे। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवराज सिंह चौहान एवं भोपाल सांसद आलोक संजर ने भी शहीद हुए जवान के पार्थिव शरीर पर पुष्पांजलि अर्पित की। चौहान ने कहा कि सीआरपीएफ के जवान हरीशचंद्र पाल ने नक्सलियों से मुठभेड़ में वीरता का परिचय दिया। भारत माता की सेवा करते-करते शहीद हुए। उन्होंने देश की आंतरिक सुरक्षा के लिए बलिदान दिया है।

Tags : ,Harishchandra Pal