आतंकी हमले में शहीद संदीप यादव को राजकीय सम्मान के साथ दी गई अंतिम विदाई

जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में आतंकवादी हमले में दो दिन पहले शहीद हुए सीआरपीएफ के जवान संदीप यादव का अंतिम संस्कार मध्य प्रदेश के देवास जिले के उनके पैतृक गांव कुलाला में पूरे राजकीय सम्मान के साथ शुक्रवार को किया गया। संदीप के पुत्र ने उनकी चिता को मुखाग्नि दी। अंतिम संस्कार के दौरान वहां मौजूद लोग ‘भारत माता की जय’ एवं ‘संदीप यादव अमर रहे’ के नारे लगा रहे थे। 

शहीद को अंतिम विदाई देते वक्त माहौल गमजदा था और हजारों लोगों की आंखें नम थीं। इस मौके पर मध्य प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री और देवास जिले के प्रभारी मंत्री जीतू पटवारी, प्रदेश के लोक निर्माण मंत्री सज्जन सिंह वर्मा तथा कई प्रशासनिक, पुलिस और सीआरपीएफ के अधिकारियों सहित हजारों लोग मौजूद थे। इससे पहले, उनके पार्थिव शरीर को अनंतनाग से विमान से बृहस्पतिवार देर रात भोपाल के राजा भोज विमानतल लाया गया, जहां से एक वाहन पर उनके शव को उनके पैतृक गांव कुलाला ले जाया गया। 

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कल रात राजा भोज विमानतल पहुँचकर शहीद जवान संदीप यादव के पार्थिव शरीर पर पुष्प चक्र अर्पित कर श्रृद्धांजलि दी। उन्होंने कहा कि संदीप यादव ने जिस अदम्य साहस के साथ आतंकियों का मुकाबला किया, उससे न केवल उनके परिवार को, बल्कि पूरे प्रदेश को अपने वीर सपूत पर गर्व है।

  मध्य प्रदेश सरकार ने शहीद जवान संदीप यादव के परिजनों को एक करोड़ रुपये की आर्थिक मदद देने के साथ-साथ उनके परिवार के एक सदस्य को शासकीय नौकरी एवं आवास मुहैया करने की घोषणा की है। गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में बुधवार को हुए आतंकवादी हमले में संदीप यादव सहित सीआरपीएफ के पांच जवान शहीद हो गए थे और चार अन्य सुरक्षाकर्मी घायल हो गए थे। संदीप सीआरपीएफ की 116वीं बटालियन में तैनात थे और कांस्टेबल थे। 
Tags : ,Sandeep Yadav,terror attack