+

वकील इंदिरा जयसिंह की निर्भया की मां से अपील, बोलीं- सोनिया गांधी की तरह दोषियों को माफ कर दें

इंदिरा जयसिंह ने कहा मैं आशा देवी के दर्द से पूरी तरह वाकिफ हूं, मैं आग्रह करती हूं कि वे सोनिया गांधी के उदाहरण को फॉलो करें, जिन्होंने नलिनी को माफ कर दिया।
वकील इंदिरा जयसिंह की निर्भया की मां से अपील, बोलीं- सोनिया गांधी की तरह दोषियों को माफ कर दें
दिल्ली की एक अदालत ने निर्भया गैंगरेप और हत्याकांड के चारों दोषियों को एक फरवरी को सुबह छह बजे फांसी पर लटकाने के लिए शुक्रवार को नया मृत्य वारंट जारी किया। इस बीच एक वरिष्ठ वकील इंदिरा जयसिंह ने निर्भया की मां आशा देवी से अपील की है कि वह सोनिया गांधी की तरह दोषियों को माफ कर दें। वकील इंदिरा जयसिंह ने ट्वीट कर यह  गुहार लगाई है।
उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, "जबकि मैं आशा देवी के दर्द से पूरी तरह वाकिफ हूं, मैं आग्रह करती हूं कि वे सोनिया गांधी के उदाहरण को फॉलो करें, जिन्होंने नलिनी को माफ कर दिया और कहा कि वह उसके लिए मौत की सजा नहीं चाहती। हम आपके साथ हैं लेकिन मौत की सजा के खिलाफ हैं।" 
इससे पहले शुक्रवार को कोर्ट और सरकार पर गुस्सा जाहिर करते हुए आशा देवी ने कहा था, "साल 2012 में जो लोग रैली में भाग लेने गए थे और महिलाओं की सुरक्षा के लिए नारे लगाए थे और वही आज अपनी राजनीतिक लाभ के लिए मेरी बेटी की मौत के साथ खेल रहे हैं। उन्होंने अपने राजनीतिक लाभ के लिए फांसी की सजा पर रोक लगा दी है।" 
बता दें कि पटियाला हाउस कोर्ट ने निर्भया के दोषियों के लिए नया डेथ वारंट जारी किया है। अब चारों दोषियों पवन गुप्त, विनय शर्मा, मुकेश और अक्षय सिंह को 1 फरवरी को फांसी दी जाएगी। 1 फरवरी को सुबह छह बजे उन्हें फांसी होगी। आपको बता दे कि इससे पहले 7 जनवरी 2020 को दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने चारों दोषियों की डेथ वारंट जारी किया था। उस वारंट के मुताबिक  चारों दोषियों को 22 जनवरी 2020 को सुबह सात बजे फांसी देने का आदेश सुनाया था।
facebook twitter