LIVE : फडणवीस बोले- कभी भी तय नहीं किया गया था कि ढाई-ढाई साल तक सीएम पद साझा किया जाएगा

महाराष्ट्र की वर्तमान विधानसभा का कार्यकाल नौ नवंबर को समाप्त हो रहा है। इससे पहले ही प्रदेश की राजनीति एक बार फिर गरमा गई है। मगर अबतक तय नहीं हो सका है कि सरकार कौन बनाएगा। भाजपा ने अब तक सरकार बनाने का दावा पेश नहीं किया है, वहीं शिवसेना बार-बार मुख्यमंत्री पद की साझेदारी पर अड़ी है। वही दूसरी ओर बीजेपी है जो सीएम पद शिवसेना से बांटना नहीं चाहती है। शिवसेना ने तो अपने विधायकों को मुंबई के रंगशारदा होटल में रख दिया है ताकि किसी भी तरह की खरीद फरोख्त से वो बच सकें। देर रात आदित्य ठाकरे रंगशारदा में विधायकों से मिलने पहुंचे।

LIVE UPDATE :-



-देवेंद्र फड़नवीस ने कहा उद्धव जी ठाकरे के साथ मेरे बहुत करीबी संबंध हैं और यह जारी रहेगा, मैंने उन्हें कई बार फोन किया लेकिन उन्होंने अभी तक कोई जवाब नहीं दिया है।

-देवेंद्र फडणवीस ने कहा बाला साहेब ठाकरे हम सभी का सम्मान करते हैं, वास्तव में हमने कभी भी उद्धव जी ठाकरे के खिलाफ कुछ नहीं कहा, लेकिन पिछले 5 वर्षों में और विशेष रूप से पिछले 10 दिनों में प्रधानमंत्री मोदी जी सहित हमारे शीर्ष नेतृत्व के खिलाफ जिस तरह के बयान दिए गए, वे नहीं थे संतोषजनक।

-देवेंद्र फडणवीस ने कहा में फिर से फिर से यह स्पष्ट करना चाहता हूं कि यह कभी भी तय नहीं किया गया था कि 2.5 साल तक प्रत्येक सीएम पद साझा किया जाएगा। इस मुद्दे पर कभी फैसला नहीं हुआ। यहां तक कि अमित शाह जी और नितिन गडकरी जी ने भी यह कभी नहीं कहा।

-देवेंद्र फडणवीस ने कहा जब चुनाव के परिणाम आए, उद्धव जी ने कहा कि सरकार गठन के लिए सभी विकल्प खुले हैं। यह हमारे लिए चौंकाने वाला था क्योंकि लोगों ने गठबंधन के लिए जनादेश दिया था और ऐसी परिस्थितियों में यह हमारे लिए एक बड़ा सवाल था कि उन्होंने कहा कि सभी विकल्प हैं उसके लिए खुला है।

-महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर देवेंद्र फडणवीस ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दिया। वह राज्यपाल कोश्यारी से मिले और उन्हें अपना इस्तीफा पत्र सौंपा।

-कांग्रेस नेता विजय वडेतिवार ने कहा कि हमार विधायक कहीं नहीं जा रहे हैं। सभी विधायक अपने- अपने जगह पर हैं। अगर कोई विधायक गए भी है तो वो उनका निजी मसला है।

-शिवसेना नेता संजय राउत राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) प्रमुख शरद पवार से मिलने पहुंच।

-शिवसेना ने अपने विधायकों को मध्या पश्चिम के मलाड पश्चिम में 15 नवंबर तक अपने विधायकों की पैरवी करने के लिए कहा। शिवसेना ने मुंबई पुलिस आयुक्त को पत्र लिखकर सुरक्षा की मांग की है।

-महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगाए जाने पर शिवसेना के नेता संजय राउत ने कहा अगर शासन लगाया जाता है, तो यह राज्य के लोगों का अपमान होगा।


Tags : Badrinath,चारधाम यात्रा,बद्रीनाथ,हिमपात,Snow,भीषण ठंड,Kedarnath Dham,केदारनाथ धाम,Chardham Yatra,Gruzing cold ,Fadnavis,state,Legislative Assembly of Maharashtra