+

Madhya Pradesh : 'लव जिहाद' को रोकने के लिए हिंदू संगठन का बड़ा ऐलान - गरबा में आधार कार्ड दिखाकर होगी एंट्री

उज्जैन के एक हिंदू धार्मिक नेता ने घोषणा की है कि 'लव जिहाद' के प्रयासों को विफल करने के लिए उनके संगठन के कार्यकर्ता यह सुनिश्चित करेंगे कि आगामी नवरात्रि त्योहार के दौरान प्रदेश में गरबा नृत्य कार्यक्रमों में कोई भी गैर-हिंदू प्रवेश न करे।
Madhya Pradesh :  'लव जिहाद' को रोकने के लिए हिंदू संगठन का बड़ा ऐलान - गरबा में आधार कार्ड दिखाकर होगी एंट्री
मध्य प्रदेश के उज्जैन के एक हिंदू धार्मिक नेता ने घोषणा की है कि 'लव जिहाद' के प्रयासों को विफल करने के लिए उनके संगठन के कार्यकर्ता यह सुनिश्चित करेंगे कि आगामी नवरात्रि त्योहार के दौरान प्रदेश में गरबा नृत्य कार्यक्रमों में कोई भी गैर-हिंदू प्रवेश न करे।
इस साल 26 सितंबर से शुरू होने वाले देवी दुर्गा के नौ दिवसीय उत्सव के दौरान पारंपरिक गरबा नृत्य कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। अखंड हिंदू सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं आवाहन अखाड़े के महामंडलेश्वर अतुलेशानंद सरस्वती ने शनिवार को यहां मीडिया से बात करते हुए कहा, ‘‘लव जेहाद को रोकने के लिए हम प्रदेश में समस्त गरबा पंडालों में तिलक लगाकर और आधार कार्ड जांच करके ही लोगों को प्रवेश देंगे। इसके लिए हम राज्य के सभी गरबा पंडालों में अखंड हिंदू सेना के 10-10 कार्यकर्ता और हिंदू वाहिनी की बहनों को नियुक्त करेंगे।’’
‘लव जिहाद’ को हो रही कोशिश 
तीन दिन पहले बृहस्पतिवार को राज्य की संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर ने कहा था कि ‘लव जिहाद’ को रोकने के लिए आने वाले नवरात्रि उत्सव के दौरान प्रदेश में गरबा नृत्य स्थलों पर प्रवेश की अनुमति पहचान पत्रों की जांच के बाद ही दी जानी चाहिए।
महामंडलेश्वर सरस्वती ने कहा कि लव जेहाद के बढ़ते मामलों को देखते हुए हिंदू धर्म के तमाम संगठनों ने मिलकर तय किया है कि ये मां दुर्गा की आराधना का पर्व है और इसे महिलाएं एवं बेटियां परिवार के साथ जाकर शालीनता से मनाएं। गरबा करें, पर अगर इसमें किसी भी तरह की फूहड़ता और गैर हिंदू का प्रवेश होता है तो उसको पकड़कर सख़्त रूप से दंडित किया जाएगा।
उन्होंने कहा कि अखंड हिंदू सेना पिछले 15 सालों से देश भर में हिंदू हितों के लिए कार्य कर रही है और ये पंजीकृत संगठन है, जिसके 2.5 लाख से भी अधिक कार्यकर्ता है। उन्होंने कहा कि इनमें से उज्जैन जिले में ही 7,000 कार्यकर्ता हैं और इसके अलावा, उज्जैन में 1,500 बहनें सिंह वाहिनी की भी हैं, सबको शस्त्र चलाना आता है और वो सुसज्जित भी है।
सख़्त कार्रवाई की जाएगी  
सरस्वती ने बताया कि हमने होटलों में होने वाले फूहड़ गरबों के लिए भी एक प्रारूप जारी किया है। हम फूहड़ता को होने नहीं देंगे। अगर कोई मुस्लिम इसमें प्रवेश पाता है तो उसको पकड़कर कर सख़्त कार्रवाई की जाएगी।
उन्होंने कहा कि गरबा के दौरान जो व्यक्ति हिंदू माता-बहनों को छेड़ेगा, उन्हें पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया जाएगा।
facebook twitter instagram