+

महाराष्ट्र: शिंदे सरकार का कर्मचारियों के लिए नया अध्यादेश जारी, अब हैलो या नमस्ते नहीं 'वंदे मातरम' बोलना होगा

महाराष्ट्र में जब से नई सरकार बनी है। मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे एक के बाद एक बड़े फैसले ले रहे हैं, जिसकी काफी तारीफ भी हो रही है।
महाराष्ट्र: शिंदे सरकार का कर्मचारियों के लिए नया अध्यादेश जारी, अब हैलो या नमस्ते नहीं 'वंदे मातरम' बोलना होगा
महाराष्ट्र में जब से नई सरकार बनी है। मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे एक के बाद एक बड़े फैसले ले रहे हैं, जिसकी काफी तारीफ भी हो रही है। इसी क्रम में एकनाथ शिंदे ने एक नया आदेश जारी कर दिया है, जिसकी कई जगहों पर प्रशंसा भी हो रही है। दरअसल नए अध्यादेश के अनुसार अब महाराष्ट्र के सभी सरकारी कर्मचारियों को फोन पर बात करने के दौरान हेलो के बजाय वंदे मातरम बोलना होगा।
2 अक्टूबर से होगा ये बदलाव 
 एक रिपोर्ट के अनुसार महाराष्ट्र सरकार द्वारा यह अध्यादेश 2 अक्टूबर यानी आज से लागू कर दिया गया है। प्रशासन विभाग ने जानकारी देते हुए बताया कि महात्मा गांधी जयंती एवं अमृत महोत्सव के तहत 2 अक्टूबर से ये बदलाव किया जा रहा है, जिसके मुताबिक कोई भी सरकारी कर्मचारी फोन पर बात करने के दौरान हेलो नहीं बल्कि वंदे मातरम बोलकर सामने वाले को संबोधित करेगा।
संस्कृति मंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने बताई वजह 
शिंदे सरकार द्वारा यह अध्यादेश लाने से पहले अगस्त महीने में महाराष्ट्र के संस्कृति मंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने कहा था कि सरकार जल्द इसे अध्यादेश के रूप में लाने वाली है और अब अक्टूबर से इसकी शुरुआत भी हो गई है। यह अध्यादेश सरकारी, अर्ध सरकारी, सरकारी स्कूल एवं अन्य संस्थानों में लागू होगा। नए आदेश में कहा गया कि हेलो एक अर्थहीन शब्द है, जबकि वंदे मातरम से लोगों की भावनाएं जुड़ी हुई है और उसका एक मतलब भी होता है। इसलिए अब हेलो के बजाए वंदे मातरम ही बोलना होगा। ताकि लोगों को सकारात्मक ऊर्जा मिले।
हम आपको बता दे सरकार के नए अध्यादेश के बाद वन विभाग द्वारा सभी कर्मचारियों और अधिकारियों को यह निर्देश दिया गया है कि वह सरकारी काम से जुड़े हुए नागरिकों और जनप्रतिनिधियों से बात करने के दौरान हेलो के बजाय वंदे मातरम बोले।
facebook twitter instagram