ममता को घुसपैठियों से दिक्कत नहीं, सुरक्षा बलों से है : नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि ममता दीदी को सीमा पार से आकर पश्चिम बंगाल में अशांति फैलाने वाले घुसपैठियों से कोई दिक्कत नहीं है लेकिन उन्हें सुरक्षा बलों से काफी समस्याएं हैं। श्री मोदी ने उत्तर 24 परगना के दमदम लोकसभा क्षेत्र में गुरुवार को चुनावी रैली के दौरान कहा कि राज्य में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ता अब कह रहे हैं कि केंद्रीय बलों को हटाया जाना चाहिए, उनकी पिटाई की जानी चाहिए। यही नीति जम्मू-कश्मीर में पत्थरबाजों ने अपनायी है।

उन्होंने कहा कि दमदम लोकसभा क्षेत्र भ्रष्ट और आपराधिक तृणमूल को उखाड़ फेंकने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि यह चुनाव ममता दीदी की अलोकतांत्रिक तिकड़मों के लिए याद किया जायेगा। यह चुनाव लोकतंत्र और संविधान के प्रति दीदी के रवैये के लिए भी याद किया जायेगा। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘यह पश्चिम बंगाल में इन चुनावों में मेरी अंतिम जनसभा है।

मैंने पिछले दो-तीन दिन में अपनी रैलियों के जरिये लाखों लोगों से संपर्क किया है। हर गांव और शहर में मुझे जो समर्थन मिला, वह अविस्मरणीय है। यह रामकृष्ण परमहंस की धरती है। यह देवी काली और भगवार राम की धरती है।

इसके बावजूद ‘जय श्री राम’ और ‘जय काली’ का उद्घोष करने वालों को जेल में डाला जा रहा है और घुसपैठिये मौज कर रहे हैं।’’ उन्होंने कहा कि मजाक करने के लिए एक लड़की को जेल में डाल दिया गया। बंगाल में बेटियों को मजाकिया पोस्ट (मीम) साझा करने पर जेल भेज दिया जा रहा है। यह अब बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। उन्होंने कहा कि 23 मई को देश में एक बार फिर मोदी सरकार बनने पर घुपैठियों के खिलाफ कार्रवाई की जायेगी।

Download our app