+

ममता बनर्जी ने बताया कन्याश्री योजना से करीब 67 लाख लड़कियों को फायदा हुआ

2013 में शुरू हुई कन्याश्री योजना ने संयुक्त राष्ट्र (प्रथम पुरस्कार) पुरस्कार जीता है। इस अनोखी योजना के माध्यम से करीब 67 लाख लड़कियों को सशक्त बनाया गया है। लड़कियां हमारे राष्ट्र की संपत्ति हैं। हमें उन पर गर्व है।
ममता बनर्जी ने बताया कन्याश्री योजना से करीब 67 लाख लड़कियों को फायदा हुआ
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शुक्रवार को कहा कि राज्य सरकार की कन्याश्री योजना ने अब तक करीब 67 लाख लड़कियों को सशक्त बनाया है। ममता ने ट्वीट कर कहा, आज कन्याश्री दिवस है। 2013 में शुरू हुई कन्याश्री योजना ने संयुक्त राष्ट्र (प्रथम पुरस्कार) पुरस्कार जीता है। इस अनोखी योजना के माध्यम से करीब 67 लाख लड़कियों को सशक्त बनाया गया है। लड़कियां हमारे राष्ट्र की संपत्ति हैं। हमें उन पर गर्व है।

फ्लैगशिप योजना 2013 में अविवाहित लड़कियों के लिए दो नकद हस्तांतरण घटकों के साथ शुरू की गई थी। ममता बनर्जी की अगुवाई वाली राज्य सरकार ने 2017 में इस योजना के लिए प्रतिष्ठित संयुक्त राष्ट्र लोक सेवा पुरस्कार भी जीता। इस योजना का लक्ष्य लड़कियों को प्रोत्साहित कर शिक्षा जारी रखना है, जिससे उनकी शादी में 18 साल के बाद हो सके।

इस योजना के तहत, 13 से 18 वर्ष की आयु की बीच की लड़कियों को 1,000 रुपये की वार्षिक छात्रवृत्ति मिलती है, और 18 वर्ष की आयु पूरी होने के बाद उन्हें 25,000 का एकमुश्त अनुदान प्रदान किया जाता है, बशर्ते कि वे पढ़ाई कर रही हों। सरकार ने राज्य में कन्याश्री कॉलेजों में कन्याश्री विश्वविद्यालय स्थापित करने का भी निर्णय लिया है। मुख्यमंत्री ने पिछले साल जनवरी में नादिया जिले के कृष्णनगर में विश्वविद्यालय की आधारशिला रखी थी।


facebook twitter