+

मनीष तिवारी ने BSF के अधिकार क्षेत्र में बढ़ोतरी को बताया ‘संघीय ढांचे पर हमला’

मनीष तिवारी ने कहा, "11 अक्टूबर, 2021 को केंद्र सरकार ने अधिसूचना जारी की थी। यह बीएसएफ से संबंधित कानून के विरूद्ध है।"
मनीष तिवारी ने BSF के अधिकार क्षेत्र में बढ़ोतरी को बताया ‘संघीय ढांचे पर हमला’
कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के अधिकार क्षेत्र में बढ़ोतरी के फैसले को ‘संघीय ढांचे पर हमला’ करार दिया। इसके साथ ही उन्होंने पंजाब में बीएसएफ का अधिकार क्षेत्र 50 किलोमीटर तक बढ़ाए जाने संबंधी अधिसूचना वापस लेने का आग्रह किया।
मनीष तिवारी ने लोकसभा के शून्यकाल के दौरान यह मुद्दा उठाया। पंजाब के आनंदपुर साहिब से लोकसभा सदस्य तिवारी ने कहा, ‘‘11 अक्टूबर, 2021 को केंद्र सरकार ने अधिसूचना जारी की थी। यह बीएसएफ से संबंधित कानून के विरूद्ध है। पंजाब भौगोलिक दृष्टि से एक छोटा राज्य है। ऐसे में हम जब 50 किलोमीटर की बात करते हैं तो फिर आधा पंजाब इसके दायरे में आ जाता है।’’

सदन नहीं चलने देना चाहती केंद्र, खड़गे का दावा- महंगाई समेत कई अहम मुद्दों पर चर्चा से बच रही सरकार

उन्होंने कहा, ‘‘यह अधिसूचना संघीय ढांचे पर हमला है। इसे वापस लिया जाना चाहिए।’’ बीजेपी के प्रवेश साहिब सिंह वर्मा ने दिल्ली में अनुबंधित शिक्षकों को नियमित करने की मांग से जुड़ा विषय सदन में मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार को इस बारे में दिल्ली के मुख्यमंत्री से बात करनी चाहिए। बीजेपी सदस्य संघमित्रा मौर्य, संतोष कुमार, दीया कुमारी और कुछ अन्य सदस्यों ने अलग-अलग मुद्दे उठाए।
होम :
facebook twitter instagram