मैरी कॉम पहले बाउट में जीती, पदक पक्का

गुवाहाटी : छह बार की विश्व चैम्पियन एमसी मैरी कॉम ने 51 किग्रा भारवर्ग में सफलतापूर्वक वापसी करते हुए दूसरे इंडिया ओपन में मंगलवार को यहां नेपाल की माला राय को हराकर सेमीफाइनल में पहुंचने के साथ पदक भी पक्का कर लिया। लंदन ओलंपिक में कांस्य पदक जीतने वाली इस मुक्केबाज के अलावा दूसरे भारतीय खिलाड़ियों ने दमदार प्रदर्शन किये। यहां के कर्मबीर नबीन चंद्र बोरदोलोई इंडोर स्टेडियम के रिंग में पहुंचते ही दर्शकों ने इस स्टार खिलाड़ी का शोर मचाकर स्वागत किया।

उन्होंने माला राय को बिना को मौका दिये 5-0 की करारी शिकस्त दी। ‘मैग्निफिसेंट’ मेरीकोम का प्रभुत्व ऐसा था कि हार के बाद भी नेपाल की खिलाड़ी मुस्कुराते हुए उनसे गले मिल रहीं थी। सेमीफाइनल में मैरी कॉम का सामना एशियाई चैम्पियनशिप की कांस्य पदक विजेता निकहत जरीन से होगा। स्ट्रांदजा कप की स्वर्ण पदक विजेता निकहत ने अनामिका को 5-0 से परास्त किया। निकहत सेमीफाइनल में अपने आयडल से दक्षिण एशियाई खेलों के सेमीफाइनल में मिले हार का बदला लेना चाहेंगी।

स्ट्रांदजा कप की रजत पदक विजेता मंजू रानी (48 किग्रा) ने फिलिपींस की क्लीयो क्लावेरस तेसारा के खिलाफ शुरूआत से ही हमलावर रूख अख्तियार किया जिस कारण उन्हें पहले दौर में ही आरएससी (रेफरी ने खेल रोक दिया) से विजेता घोषित कर दिया गया। वह इस जीत के साथ सेमीफाइनल में पहुंच गयी। मोनिका ने भी दमदार खेल दिखाती हुए थाईलैंड की अपापोर्न इंतोंगसी को 5-0 से शिकस्त दी।

Download our app
×