+

मायावती ने की केंद्र और राज्य सरकार अपील : घर लौटे श्रमिकों को काम का मौका दे सरकार

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती ने रविवार को केंद्र और राज्य सरकारों से अपील की है कि वे घर लौटे उत्तर प्रदेश और बिहार के मनरेगा श्रमिकों को काम के अवसर प्रदान करें।
मायावती ने की केंद्र और राज्य सरकार अपील : घर लौटे श्रमिकों को काम का मौका दे सरकार
बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती ने रविवार को केंद्र और राज्य सरकारों से अपील की है कि वे घर लौटे उत्तर प्रदेश और बिहार के मनरेगा श्रमिकों को काम के अवसर प्रदान करें। 
मायावती ने ट्वीट  किया ‘‘ आंकड़े फिर गवाह हैं कि देश के करोड़ों श्रमिक संघर्षशील जीवन व मेहनत की रोटी खाने की परम्परा पर लगातार डटे हैं। खासकर यूपी व बिहार में घर लौटे प्रवासी श्रमिक मनरेगा के तहत श्रम करके परिवार का पेट जैसे-तैसे पाल रहे हैं। अत: केंद्र व राज्य सरकारें उन्हें उचित अवसर जरूर प्रदान करें।’’ एक रिपोर्ट के अनुसार उत्तर प्रदेश सरकार अब सरकारी नौकरी में बड़े बदलाव की तैयारी में हैं जिसके तहत नई नौकरी पाने वालों की पांच वर्ष तक संविदा पर तैनाती होगी। इन पांच वर्ष के दौरान भी हर वर्ष में छह-छह महीने में उनका मूल्यांकन होगा। 
उसमें भी हर बार 60 प्रतिशत अंक लाना यानी फर्स्ट डिवीजन में पास होगा बेहद जरूरी होगा। प्रदेश सरकार की अब प्रस्तावित नई व्यवस्था के तहत पांच वर्ष बाद ही मौलिक नियुक्ति की जाएगी।

पूर्व केंद्रीय मंत्री के निधन पर लालू प्रसाद ने जताया शोक, कहा- प्रिय रघुवंश बाबू! ये आपने क्या किया ?

facebook twitter