+

हाथरस मामले पर बोलीं मायावती - दंगा भड़काने की साजिश का आरोप सही या चुनावी चाल, वक्त बताएगा

मायावती ने मंगलवार को कहा कि विपक्ष पर जातीय और सांप्रदायिक दंगा भड़काने की साजिश का मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का आरोप सही है या फिर चुनावी चाल, यह तो वक्त ही बताएगा।
हाथरस मामले पर बोलीं मायावती - दंगा भड़काने की साजिश का आरोप सही या चुनावी चाल, वक्त बताएगा
हाथरस में दलित युवती के कथित सामूहिक बलात्कार और उसकी मौत की घटना को लेकर बहुजन समाज पार्टी (बसपा) अध्यक्ष मायावती ने मंगलवार को कहा कि  विपक्ष पर जातीय और सांप्रदायिक दंगा भड़काने की साजिश का मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का आरोप सही है या फिर चुनावी चाल, यह तो वक्त ही बताएगा। 
मायावती ने सिलसिलेवार ट्वीट में कहा, "हाथरस काण्ड की आड़ में विकास को प्रभावित करने के लिए जातीय व साम्प्रदायिक दंगा भड़काने की साजिश का विपक्ष पर लगाया गया यूपी सरकार का आरोप सही या चुनावी चाल, यह समय बताएगा, किन्तु जनमत की मांग है कि हाथरस काण्ड के पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने पर सरकार ध्यान केन्द्रित करे तो बेहतर।" 
उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा, "वैसे हाथरस काण्ड को लेकर पीड़िता के परिवार के साथ जिस प्रकार का गलत व अमानवीय व्यवहार किया गया उससे देश भर में काफी रोष व आक्रोश है। सरकार अब भी गलती सुधारे और पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने के लिए गंभीर हो वरना जघन्य घटनाओं को रोक पाना मुश्किल होगा।" 
गौरतलब है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विपक्ष पर हाथरस मैं एक दलित लड़की से कथित रूप से सामूहिक बलात्कार और उसके बाद उसकी मौत के मामले को लेकर जातीय और सांप्रदायिक हिंसा फैलाने की साजिश रचने का आरोप लगाया था। उन्होंने कहा था कि कुछ लोग विकास में बाधा डालने के लिए ऐसे षड्यंत्र रच रहे हैं। हालांकि विपक्षी दल इसे योगी द्वारा अपनी नाकामियों पर पर्दा डालने की कोशिश करार दे रहे हैं। बहरहाल, सरकार के खिलाफ साजिश करने के आरोप में डेढ़ दर्जन से ज्यादा मुकदमे दर्ज किए गए हैं।

देश को आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के क्षेत्र में वैश्विक केंद्र बनाने का लक्ष्य : PM मोदी

facebook twitter instagram