+

मौसम विभाग ने राजधानी में बादल छाए रहने और मध्यम बारिश की संभावना जतायी

दिल्ली वासियों की शुक्रवार सुबह की शुरुआत खुशनुमा और ठंडे मौसम के साथ हुई तथा न्यूनतम तापमान सामान्य से सात डिग्री कम 23 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।
मौसम विभाग ने राजधानी में बादल छाए रहने और मध्यम बारिश की संभावना जतायी
दिल्ली वासियों की शुक्रवार सुबह की शुरुआत खुशनुमा और ठंडे मौसम के साथ हुई तथा न्यूनतम तापमान सामान्य से सात डिग्री कम 23 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने शुक्रवार को मध्यम बारिश के साथ आसमान में बादल छाए रहने का अनुमान जताया है।
उसने बताया कि शहर में अधिकतम तापमान 32 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की संभावना है। आईएमडी के प्रादेशिक मौसम केंद्र (आरडब्ल्यूएफसी) ने ट्वीट किया, ‘‘दक्षिण-पश्चिम दिल्ली (जाफरपुर, नजफगढ़), महेंद्रगढ़, रेवाड़ी, नारनौल, बावल (हरियाणा), तिजारा, खैरथल, कोटपुतली, अलवर, विराटनगर, नदबई (राजस्थान) के कुछ इलाकों में अगले दो घंटों के दौरान हल्की से मध्यम तीव्रता की बारिश आएगी।’’
27 जून को राष्ट्रीय राजधानी पहुंचता है मानसून 
आईएमडी ने बताया कि सुबह साढ़े आठ बजे सापेक्षिक आर्द्रता 93 प्रतिशत दर्ज की गयी। दिल्ली में बृहस्पतिवार सुबह मानसून की पहली बारिश हुई। आईएमडी के आंकड़ों के अनुसार, राष्ट्रीय राजधानी में बृहस्पतिवार सुबह साढ़े आठ बजे से शुक्रवार सुबह साढ़े आठ बजे तक 117 मिलीमीटर बारिश हुई। दक्षिणपश्चिम मानसून आम तौर पर 27 जून को राष्ट्रीय राजधानी पहुंचता है और पूरे देश में आठ जुलाई तक रहता है।
बारिश से दिल्ली के निवासियों को भीषण गर्मी से काफी राहत मिली। हालांकि, नव निर्मित प्रगति मैदान सुरंग, आईटीओ, रिंग रोड, बारापूला कोरिडोर, दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे और सराय काले खां में जलभराव से भारी यातायात जाम लग गया। वायु गुणवत्ता और मौसम पूर्वानुमान एवं अनुसंधान प्रणाली (सफर) के आंकड़ों के अनुसार, दिल्ली का वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) सुबह करीब साढ़े नौ बजे ‘मध्यम’ (123) श्रेणी में दर्ज किया गया।
गौरतलब है कि शून्य से 50 के बीच के एक्यूआई को अच्छा, 51 से 100 के बीच को संतोषजनक, 101 से 200 के बीच को मध्यम, 201 से 300 के बीच को खराब, 301 से 400 के बीच को बहुत खराब और 401 से 500 के बीच को गंभीर माना जाता है।
facebook twitter instagram